अपने आवास पर तोड़फोड़ और हिंसा के एक दिन बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि देश के लिए मेरी जान भी हाजिर है। आम आदमी पार्टी ने कल कहा था कि भाजपा केजरीवाल को मारने की कोशिश कर रही है, क्योंकि वह उन्हें चुनाव में हराने में असमर्थ हैं। उन्होंने दिल्ली में ई-ऑटो के शुभारंभ कार्यक्रम में कहा, केजरीवाल महत्वपूर्ण नहीं हैं, यह देश महत्वपूर्ण है। मैं देश के लिए मर सकता हूं। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की सबसे बड़ी पार्टी (भाजपा) को इस तरह की गुंडागर्दी नहीं करनी चाहिए क्योंकि इससे देश के युवाओं में गलत संदेश जाता है।

हाल ही में रिलीज हुई विवादित फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' पर केजरीवाल की टिप्पणी के विरोध में भाजपा कार्यकर्ताओं की बुधवार को उनके आवास के बाहर पुलिस से झड़प हो गई थी। आप नेता सौरभ भारद्वाज ने गुरुवार को दिल्ली उच्च न्यायालय का रुख किया और अपराधियों के खिलाफ एक विशेष जांच दल के गठन के निर्देश की मांग की।

ये भी पढ़ेंः आखिरकार बर्बाद हो गया भारत का ये पड़ोसी देश, डीजल खत्म, 13 घंटें की बिजली कटौती, जानिए क्यों


ये भी पढ़ेंः आरक्षण को लेकर आखिरकार सुप्रीम कोर्ट का आ ही गया बड़ा फैसला, इस जाति को लगा तगड़ा झटका


हिंसा पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए केजरीवाल ने कहा, हमें देश को एक साथ आगे ले जाना है, हमने लड़ाई में 75 साल बर्बाद कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि देश इस गुंडागर्दी से समृद्ध नहीं होगा और 21 वीं सदी के भारत के लिए सभी को मिलकर शांति से काम करना होगा। वहीं बीजेपी नेताओं ने केजरीवाल पर फिल्म में दिखाए गए कश्मीरी हिंदुओं के "नरसंहार" का मजाक उड़ाने का आरोप लगाया है। भारतीय जनता युवा मोर्चा के सदस्य कल दिल्ली के मुख्यमंत्री के घर पहुंचे थे, जहां उन्होंने पुलिस से भिड़ंत के बाद गेट पर लाल पेंट फेंका और सीसीटीवी कैमरे को नुकसान पहुंचाया।