राज्य स्वाथ्य मंत्री पीयूष हजारिका के नेतृत्व में खाद्य सुरक्षा विभाग ने नगर के विभिन्न होटलों में मौजूद मिलावटी मिठाई व मिलावटी दूध के खिलाफ अभियान चलाया, जहां होटलों में अस्वस्थ परिवेश व गंदगी में मिठाई व खाद्य सामाग्री बनाने का मामला सामने आया । 

वहीं काफी मात्रा में मिलावटी दूध भी जब्त किया । मंत्री हजारिका खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम  के साथ नारंगी क्षेत्र डाउन टाउन और गणेरग गुड़ी में औचक अभियान चलाया । विभाग की टीम ने व्हील्स लेब्रोरटरी से नारंगी में दूध की जांच की । टीम ने दूध के दस नमूने लिए , जहां कुछ नमूनों में  मिलावट पाई गई। 

खाद्य सुरक्षा विभाग के टीम जल्द ही उक्त क्षेत्र में दुग्ध व्यवसाय के खिलाफ कानूनी कार्यवाई करेगी। टीम ने गणेशगुड़ी के बीके टावर स्थित रुक्मण और प्रिया स्वीट्स और डाउन टाउन के गोविन्दम में भी अभियान चलाया, जहां अस्वस्थ परिवेश व गंदगी में मिठाई व खाद्य सामाग्री बनाते पाया गया । टीम ने मिठाई व खाद्य सामग्री  के नमूने एकत्र किया ।

मंत्री ने इन होटलो के खिलाफ़ कानूनी कार्यवाई करने का निर्देश दिया । उन्होंने पुन: स्पष्ट कर दिया कि 2 नंबरी व्यवसायी को बख्सा नहीं जाएगा । अगर कोई व्यवसायी मिलावटी करते पाया जाता है तो उन्हें जेल की  हवा खानी पड़ेगी । मिलावटी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा ।

इस अभियान में मंत्री के अलावा खाद्य सुरक्षा अधिकारी शमीरन बरुवा, अनिल शर्मा, तरुण दास, मुनींद्र भुयां, मेघाली कोंवर, अनूपम गोगोई व एलआर नामपुइ भी मौजूद थे । सनद रहे कि अभियान टीम जैसे ही मौके पर पहुंची थी, तभी कुछेक दुकानदार अपनी दुकान बंद कर भाग खड़े हुए ।