खासी हिल्स स्वायत्त परिषद (केएचएडीसी) के नवनिर्वाचित मुख्य कार्यकारी समिति (सीईएम) तेइनवेल ड्खार ने नई कार्यकारी समिति (ईसी) के कार्यकारी सदस्यों (ईएम) को अलग-अलग विभाग आवंटित किए हैं। परिषद की अधिसूचना के अनुसार सीईएम ने अपने लिए कानूनी मामलों, पोस्टिंग, स्थानांतरण, नियुक्ति और अन्य मामले तो किसी भी अन्य सदस्यों को आवंटित नहीं किया है।



एनपीपी नेता पीएस सियम को उप सीईएम का पद दिया गया है और वह वित्त और इलाका प्रशासन विभाग संभालेंगे।यूडीपी टिटोस्टार वेल चिने को काउंसिल बिल्डिंग, काउंसिल एसेट्स, प्लानिंग एंड ट्रेडिशनल मेडिसिन विभागों को सहित अन्य की जिम्मेदारी दी गई है। एचएसपीडीपी के मार्टल मुखीम के पास विकास, विवाह और तलाक विभाग होंगे। यूडीपी नेता पाॅल लिंग्दोह व्यापार खासी हिल्स स्वायत्त जिला (भूमि विकास और भवन) विनियमन, 2105 और शिक्षा विभागों का जिम्मा संभालेंगे।


वहीं एनपीपी के विक्टर रानी राजस्व संग्रह स्वास्थ्य और स्वच्छता विभाग का देखेंगे। यूडीपी  के टीइबोरलांग पथाव श्रम वांखर टाउन कमेटी, भूमि, खान और खनिज विभाग, पीडीएफ के एमएस मावलांग कराधान, सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग, एनपीपी की आर खारबुकी युवा मामले, जल संसाधन और कला एवं संस्कृति विभाग, यूडीपी केजे वार बाजार और मतस्य पालन विभाग का जिम्मा संभालेंगे। उल्लेखनीय है कि परिषद के चेयरमैन पीएन सिएम हैं। उन्हें 7 मार्च को निर्विरोध निर्वाचित किया गया था। केएचएडीसी के नवनिर्वाचित सदस्यों को 6 मार्च को शपथ दिलाई गई थी।   आप को बता दे कि सहयोगी पार्टी भाजपा एक भी सीट नहीं जीत पाई थी, वहीं कांग्रेस को भी उम्मीद से कम सीटें मिली थी।