दक्षिणी दिल्ली नगर निगम का बुलडोजर अब शाहीन बाग की ओर मुड़ गया है। निगम अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत सोमवार को शाहीन बाग में बुलडोजर चलाने जा रहा है। हालांकि एमसीडी को पुलिस से अपनी कार्रवाई के लिए इजाजत मिली है या नहीं, इसकी अभी तक पुष्टि नहीं हो सकी है। वहीं मौके पर प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भी नारे लगाए। पुलिसकर्मी उन लोगों को हटाने की कोशिश कर रही है। एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि ये नफरती बुलडोजर है। इस बुलडोजर के नाम से माहौल खराब किया जा रहा है।

ये भी पढ़ेंः पाकिस्तान की कंगाली में गीला आटा! नए PM शहबाज ने गेहूं के संकट पर दे दिया चौंका देने वाला बयान


दरअसल बीते कई दिनों से पुलिस का साथ न मिल पाने के कारण एमसीडी बुलडोजर नहीं चला पा रही थी, लेकिन अब शाहीन बाग के एच ब्लॉक में बुलडोजर पहुंच गया है, साथ ही कुछ ट्रक भी पहुंचे हैं। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम, सेंट्रल जोन के चेयरमैन राजपाल सिंह ने कहा कि, हमारे कर्मचारी बुलडोजर और बाकी जरूरी सामान के साथ वहां पहुंच रहे हैं। हमने जो रोडमैप बनाया है, सब उसी हिसाब से चलेगा, हमें पुलिस फोर्स जरूर मिलेगी।

ये भी पढ़ेंः लाउडस्पीकर विवाद की भड़की आग, सुबह 5 बजे से लाउडस्पीकर से 1000 मंदिरों पर पढ़ी गई हनुमान चालीसा


दिल्ली के जहांगीरपुरी में बुलडोजर चलने के बाद दिल्ली के अन्य जगहों पर भी बुल्डोजर चलने लगा है। हालंकि इसपर सियासत भी हो रही है। दिल्ली कांग्रेस नेता परवेज आलम ने कहा कि नफरत का बुलडोजर जो चलाया जा रहा है, इसे हम होने नहीं देंगे, पिक एंड चूज की पॉलिसी नहीं चलेगी। अब तक कार्रवाई क्यों नहीं हुई। जब वो निगम से जा रहे हैं यो यह करवाई की जा रही है। शाहीन बाग निगम पार्षद वाजिद खान ने बताया कि, अतिक्रमण के खिलाफ हम नहीं हैं। शाहीन बाग में हम निगम के अधिकारियों को बताएंगे कौन सा क्षेत्र किसके अधीन है और उनसे यह पूछेंगे भी कि कौनसा क्षेत्र अतिक्रमण का है?