पश्चिम बंगाल के कूच विहार में हुए नक्सली हमले में बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया। जानकारी के अनुसार मिजोरम के रहने वाले शहीद जवान अरविन्द विमल बुधवार रात 2 बजे खाना खाकर ड्यूटी पर जा रहे थे। इस दौरान रास्ते में पहले से घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने उनपर हमला कर दिया। जिसमें वह शहीद हो गए। जवान अरविन्द हेडकांस्टेबल के पद पर कार्यरत थे। जवान के शहीद होने की खबर मिलते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

शहीद जवान अरविंद विमल (26) पुत्र सुरेश जिले के नगर पंचायत रसूलाबाद के रहने वाले थे। अरविंद के 5 भाइयों में तीसरे नंबर पर थे। जिनमें से 2 की शादी हो गई थी जबकि शहीद जवान की शादी अगले महीने में होने वाली थी।  साल 2011 में वह बीएसएफ में भर्ती हुए थे और त्तकाल में पश्चिम बंगाल के कूच विहार मे हेडकांस्टेबल के पद पर कार्यरत थे।

जानकारी के अनुसार, बुधवार रात 2 बजे खाना खाने के बाद वह ड्यूटी पर जा रहा था। इसी बीच नक्सलियों ने उनपर हमला कर दिया और मुठभेड़ में अरविंद शहीद हो गए। देर रात जब गश्त पर निकले गश्ती दल की निगाह उसपर पड़ी तो देखा की अरविंद को गोली लगी थी और वह शहीद हो गए थे। परिजनों को अरविंद के शहीद होने की सूचना फोन पर दी गई।  शहीद के भाई शेखर विमल ने बताया कि मां के पास फोन आया कि भाई के साथ हादसा हो गया। इतना सुनते ही मां के हाथ से फोन छुट गया और वह रोने लगी।