सीमा सुरक्षा बल (BSF) के महानिरीक्षकों और बांग्लादेश के बॉर्डर गार्ड्स (BGB) के क्षेत्र कमांडरों के बीच सीमा समन्वय सम्मेलन अगरतला में वीडियो टेली कॉन्फ्रेंसिंग (वीटीसी) के माध्यम से शुरू हुआ है। यह सम्मेलन 10 जून तक चलेगा। बांग्लादेश के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व दक्षिण-पूर्व क्षेत्र के लिए बीजीबी के अतिरिक्त महानिदेशक तनवीर गनी चौधरी कर रहे हैं।


महत्वपूर्ण वार्ता में बीजीबी के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी हिस्सा ले रहे हैं। सम्मेलन में बीजीबी के अलावा बांग्लादेश के विदेश मंत्रालय और गृह मंत्रालय के प्रतिनिधि भी भाग ले रहे हैं। भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व बीएसएफ त्रिपुरा फ्रंटियर के महानिरीक्षक सुशांत कुमार नाथ कर रहे हैं। उनके साथ बीएसएफ मेघालय फ्रंटियर के महानिरीक्षक हरदीप सिंह, बीएसएफ मिजोरम और कछार फ्रंटियर के महानिरीक्षक दिनेश कुमार बूरा और अन्य वरिष्ठ बीएसएफ अधिकारी जा रहे हैं।


विचार-विमर्श के दौरान सीमा पार अपराध, प्रतिबंधित वस्तुओं और मवेशियों की तस्करी, बांग्लादेश की ओर से भारतीय विद्रोही समूहों की गतिविधियों, नकली भारतीय मुद्रा नोट आदि सहित द्विपक्षीय हितों के विभिन्न सीमा मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई। इसके अलावा, सम्मेलन के दौरान त्रिपुरा में सिंगल रो फेंस (एसआरएफ) के निर्माण और अन्य लंबित विकास कार्यों पर भी विस्तार से चर्चा की गई। दोनों पक्ष अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर शांति और अमन कायम करने के साझा लक्ष्य को हासिल करने के लिए सभी द्विपक्षीय मुद्दों को सौहार्दपूर्ण ढंग से सुलझाने पर भी सहमत हुए है।