एक महिला को हाल ही में उसकी Instagram पोस्ट ने एक ही झटके में करोड़पति बना दिया। दरअसल, यह महिला सड़क हादसे की शिकार हो गई थी। इसके बाद उसने अपने Instagram पोस्ट इसके क्लेम के लिए दावा किया जिसें झूठा साबित करने की कोशिश की गई। ये कोशिश इंश्योरेंस कंपनी ने की थी लेकिन ऐसा करने में कामयाब नहीं हो सकती।

इश्योरेंस कंपनी ने सड़क हादसे में महिला की चोटों को गंभीर नहीं माना और उसकी गतिविधियों को ट्रैक करने के लिए एक गुप्त वीडियो निगरानी ऑपरेशन चलाया। इंश्योरेंस कंपनी का कहना था कि इंस्टाग्राम पर महिला की ग्लैमरस लाइफ देखकर ऐसा बिल्कुल नहीं लगता कि एक्सीडेंट की वजह से उसकी जिंदगी तबाह हुई है।

यह मामला ब्रिटेन का है जहां इसके एक्सीडेंट क्लेम को लेकर महिला और कंपनी के बीच विवाद लंबे समय तक चला। परंतु अंत में कोर्ट ने महिला के हक में ऐतिहासिक फैसला सुनाया है। इसके तहत उसें 1.7 मिलियन पाउंड यानि 17 करोड़ रुपये से अधिक भुगतान का आदेश दिया है।
खबर है कि सड़क हादसे का शिकार इस 34 वर्षीय ब्रिटिश महिला का नाम नताशा पालमर है। नताशा पूर्व मीडिया एक्जीक्यूटिव रहीं हैं। 2014 में नशे में एक ड्राइवर ने उनकी Renault Clio कार को पीछे से टक्कर मारी थी। इस हादसे ने नताशा की जिंदगी बदल गई।

इस हादसे में नताशा को गंभीर चोटें आईं। हादसे ने उनके दिमाग पर बुरा असर पड़ा। दिमागी चोट से उनके शरीर में गंभीर माइग्रेन, खराब याददाश्त, एकाग्रता भंग, आंखों में दिक्कत और चक्कर आने जैसी बीमारियां लग गई। जब वो चलती तो लगता कि वो नशे में हैं। इस एक्सीडेंट के बाद से नताशा की जिंदगी पूरी तरह बदल गई।

लेकिन, नताशा की इन समस्याओं को इंश्योरेंस कंपनी ने खास तवज्जो नहीं दी और उसकी बतों को झूठा माना। जब नताशा ने 2 मिलियन पाउंड से अधिक के नुकसान पाने के लिए एक्सीडेंट करने वाले नशेबाज ड्राइवर Seferif Mantas पर लंदन कोर्ट में केस किया, तो उसकी बीमा कंपनी के वकील ने नताशा पर "मौलिक बेईमानी" का आरोप लगाया। उसने कहा कि नताशा अपनी समस्याओं को बढ़ा-चढ़ाकर पेश कर रही हैं। हालांकि, कंपनी ने पहले 5 लाख देने की बात कही थी। लेकिन नताशा इसपर नहीं राजी हुईं।

हालांकि, जब ये मामला कोर्ट पहुंचा तो Liverpool Victoria इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड ने नताशा पालमर के Instagram Post का सहारा लेकर उन्हें झूठा साबित करने की कोशिश की। इसके बाद उनकी गतिविधियों को ट्रैक किया गया। कंपनी ने कोर्ट को नताशा की Instagram Photos और Videos को दिखाया कि कैसे एक्सीडेंट से ठीक होने के बाद नताशा आराम से एन्जॉय कर रही हैं।

इस मामले में इंश्योरेंस कंपनी ने कोर्ट को नताशा की सैकड़ों पोस्ट दिखाईं, जिनमें वह स्कीइंग, विदेश ट्रिप, म्यूजिक कंसर्ट आदि में भाग लेते हुए नजर आ रही हैं। उनकी हंसती-मुस्कुराती तस्वीरों को आधार बनाकर कंपनी ने दावा किया कि वो एक्सीडेंट के बाद प्रभावों के बारे में झूठ बोल रही हैं। वहीं, जबकि नताशा अपनी बात पर अडिग रहीं। उन्होंने कई मेडिकल प्रूफ भी कोर्ट को सौंपे।
कंपनी की इन बातों का कोर्ट पर कुछ खास प्रभाव नहीं पड़ा। इस पर जज एंथनी मेट्ज़र ने कंपनी के दावों को खारिज करते हुए उसें 17 करोड़ भुगतान करने का आदेश दिया।