ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने चेतावनी दी है कि भारत में मिला Corona Variant उन लोगों में जंगल की आग की तरह फैल सकता है जिन्होंने अब तक कोरोना का वैक्सीन नहीं लगवाया है। बताया गया है कि बोल्टन और ब्लैकबर्न जैसे इलाकों में कोरोना के वायरस तेजी से फैल रहे हैं। हालांकि उन्होंने संतोष जताया कि मौजूदा वैक्सीन बेहतरीन है और वर्तमान टीके वैरिएंट के खिलाफ प्रभावी हैं।

हैनकॉक ने उन लोगों से आग्रह किया जो टीकाकरण के लिए पात्र हैं, लेकिन उन्होंने अभी तक वैक्सीन लगवाने के लिए अपॉइंटमेंट बुक नहीं किया, ऐसे भी लोग जल्द से जल्द टीका लगवा लें। पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड (पीएचई) ने कहा कि ब्रिटेन में बी 1617.2 के रूप में जाना जाने वाला संक्रमण पिछले सप्ताह पीएचई द्वारा दर्ज 520 मामलों से दोगुना से अधिक 1313 हो गया है।

लॉकडाउन में ढील को 'अत्यंत सावधानी के साथ' इस्तेमाल किया जाए
हालांकि, हैनकॉक ने कहा कि सोमवार को लॉकडाउन में ढील की योजना अभी भी आगे बढ़ेगी। हैनकॉक के अनुसार, 14 जून को एक निर्णय की घोषणा की जाएगी कि क्या देश 21 जून को अंतिम चरण में आगे बढ़ेगा, जब सामाजिक संपर्क की सभी कानूनी सीमाओं को हटाने की उम्मीद है। सोमवार से इंग्लैंड में पब, बार और रेस्तरां को घर के अंदर खोलने की अनुमति होगी, जबकि इनडोर मनोरंजन भी फिर से शुरू होगा, जिसमें सिनेमा, संग्रहालय और बच्चों के खेलने के क्षेत्र शामिल हैं।

इंग्लैंड में लोगों को अधिकतम 30 लोगों के समूह में बाहर मिलने और छह या दो परिवारों के समूहों में घर के अंदर मिलने की अनुमति होगी। इस बीच ब्रिटेन के स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेतावनी दी कि लॉकडाउन में ढील के अगले चरण को 'अत्यंत सावधानी के साथ' इस्तेमाल किया जाना चाहिए। नवीनतम आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, ब्रिटेन में 3. 6 करोड़ से अधिक लोगों को कोरोना वायरस वैक्सीन का पहला टीका दिया गया है।