राजस्थान के अलावा अब एक और राज्य में ब्रह्मपुत्र पुष्कर मेले की शुरूआत की गई है जिसका उद्घाटन भाजपा के एक मुख्यमंत्री ने किया है। यह राज्य कोई और नहीं बल्कि पूर्वोत्तर भारत का खूबसूरत राज्य असम है। यहां पर गुहवाटी से होकर बहने वाली ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे इस मेले का आयोजन किया जा रहा है। Brahmaputra Pushkar Mela 2019 का आयोजन पहली बार किया जा रहा है और इसका आयोजन चेन्नई के महालक्ष्मी चेरिटेबल ट्रस्ट और गुवाहाटी के पूर्व तिरूपति श्री बालाजी सेवा समिति द्वारा किया जा रहा है। इस मेले का उद्घाटन राज्य के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने किया है जहां पर भाजपा के राष्ट्रीय जनरल सेक्रेटरी राम माधव ने पूजा की है।

5 नवंबर से शुरू हुए Brahmaputra Pushkar Mela 2019 को लेकर सर्बानंद सोनोवाल ने ट्वीट भी किया है। यह मेला 16 नवंबर 2019 तक चलेगा। हालांकि यहां पर इस समय पुष्करम फेस्टिवल पहले से ही मनाया जाता रहा है जिस दौरान नदियों की पूजा की जाती है, लेकिन इस बार इसें ब्रह्मपुत्र पुष्कर मेले के नाम से आयोजित किया जा रहा है।

पुष्करम मेले का आयोजन भारत की 12 प्रमुख नदियों के किनारे की जाती है। इस दौरान नदियों की पूजा करने समेत कई तरह के धार्मिक अनुष्ठान, भक्ति संगीत तथा सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। माना जा रहा है कि ब्रह्मपुत्र पुष्कर मेले में इस बार 2 लाख से ज्यादा लोग आएंगे। इस पूजा में दक्षिण भारत से 100 से ज्यादा पुजारी भाग लेंगे। इस मेले के दौरान नई शुरू की गई इलेक्ट्रिक बसों का संचालन किया जा रहा है। इसका आयोजन बहालुमुख से फैंसी बाजार तक किया जा रहा है।