भोजन के मामले में हम अक्सर बहुत सिलेक्टिव होते हैं। जुबान को जो पसंद आए, हम वही खाते हैं। जबकि कुछ ऐसी चीजें हैं जो हम केवल उबालकर खाते हैं और माना जाता है कि इनमें दूसरी चीजों से अधिक पोषक तत्व होते हैं, जैसे अंडा, चावल, चिकन, बींस और आलू आदि। हालांकि, उबालने के बाद भी इनके अंदर मौजूद तत्व थोड़े बदल जाते हैं। इसलिए कुछ विशेषज्ञ उबले हुए भोजन को भी सबसे ज्यादा तंदुरुस्त नहीं मानते।

हालांकि, इसके पीछे की वजह यह है कि जब आप भोजन को अधिक उबाल देते हैं तो उसके पोषक तत्व भी नष्ट होने लगते हैं। यानी आपको केवल उबले हुए भोजन में यह देखना है कि वह ज्यादा ना पक जाए। अगर भोजन सही मात्रा और समय तक उबला हो तो वह फायदेमंद ही रहता है। 

अगर आप उबले हुए खाने को सेहत के लिए सही नहीं मानते तो क्या आपको रोस्टेड या फ्राइड फूड सेहतमंद रहने का नुस्खा लगता है। नहीं ना, दरअसल हमारे खाने पीने की चीजों में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो आसानी पचाए नहीं जा सकते। लेकिन जब आप भोजन को सही तरह उबालते हैं तो यह तत्व आपके शरीर में जाकर आसानी से पचने लायक हो जाते हैं।

उबला हुआ भोजन वजन कम करने में मदद करता है, त्वचा की बनावट में सुधार करता है, अम्लता को रोकता है, गुर्दे की पथरी को रोकने में मदद कर सकता है। पेट की सूजन को कम करती है और बालों के विकास को बढ़ावा भी देता है। 

हमारे शरीर को दिनभर बहुत से पोषक तत्वों की जरूरत होती है। ऐसे कई तत्व आपको कॉर्न के अंदर आसानी से मिल जाते हैं। इसके अंदर आपको विटामिन बी मिलती है जो आपकी सेहत के लिए लाभदायक होती है। इसके अलावा कई खनिज तत्व जैसे कॉपर, आयरन, मैग्नीशियम और जिंक आदि पाए जाते हैं, जो आपकी इम्यूनिटी भी बढ़ाते हैं और आपको बीमारियों से बचा कर रखते हैं।

जिम जाने वाले लोग अक्सर ब्रोकली खाना बेहद पसंद करते हैं। इसके पीछे की वजह है कि इसके अंदर पाए जाने वाले गुण। ब्रोकली में विटामिन सी, विटामिन के, आयरन, और पोटेशियम जैसे तत्व तो पाए जाते ही हैं, साथ ही इसमें प्रोटीन भी मौजूद होता है। ब्रोकली का सेवन आप उबालकर सूप के साथ कर सकते हैं।