बिहार के समस्तीपुर जिले में शुक्रवार देर रात बागमती नदी में यात्रियों से भरी नाव पलट गई. जिसके बाद शनिवार दोपहर तक प्रशासन 6 लोगों की लाशों को निकाल चुका है.

बाकी लोगों की तलाश जारी है. बताया जा रहा है कि मरने वालों में एक ही परिवार के विजय राम, उसकी पत्नी रीना देवी और पुत्र हसन कुमार भी शामिल हैं. जो नाव से अपने ससुराल नामपुर जा रहे थे. बाकि दो युवक अमन कुमार व रोहित कुमार का शव भी बरामद किया गया है. वहीं, दोपहर में एक और शव बरामद किया गया जिसकी पहचान अभी तक नहीं हो पाई है.

दरअसल शुक्रवार देर रात चकमेहसी थाना क्षेत्र से गुजरने वाली बागमती नदी में तेज आंधी-तूफान के कारण नाव पलटी थी. घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गई थी. फिलहाल नामपुर गांव जाने लोगों को ढूंढने में स्थानीय गोताखोरों सहित गांव वाले जुट गए हैं.

मौके पर अंचलाधिकारी अभय पद दास, चकमेहसी थानाध्यक्ष चंद्र किशोर टूडू लापता लोगों को नदी की धार से निकलवाने के लिए कैंप कर रहे हैं. इस संबंध में थानाध्यक्ष ने बताया कि नाव पर सवार 5 लोग तैरते हुए किसी तरह बांध के समीप पहुंच चुके हैं. अन्य लोगों की तलाश जारी है.

नाव पर सवार लोगों की संख्या को लेकर संशय

नाव पर सवार लोगों की संख्या को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है. घटनास्थल पर कई तरह की बातें सामने आ रही हैं. स्थानीय लोग नाव पर 12 से 14 लोगों के सवार होने की बात बता रहे हैं. तो वहीं कल्याणपुर के सीओ सात लोगों के लापता होने की बात कह रहे हैं.