लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाये जाने के बाद लद्दाख स्वायत्त पर्वतीय विकास परिषद (एलएएचडीसी) के पहले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शानदार सफलता हासिल की है। परिषद के 26 सीटों के आये परिणामों में भाजपा ने 15 पर जीत का परचम लहराया, जबकि कांग्रेस को 9 सीटों पर संतोष करना पड़ा। दो सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार विजयी हुए हैं। 

चुनाव में नेशनल कांफ्रेंस (एनसी) और पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने भाग नहीं लिया था। गृह मंत्री अमित शाह ने भाजपा के शानदार प्रदर्शन पर प्रतिक्रिया करते हुए कहा कि यह यहां के लोगों का भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रति विश्वास को दर्शाता है और मैं लद्दाख की जनता का धन्यवाद करना चाहता हूं कि उन्होंने विकास और समृद्वि के रास्ते को चुना है। इसके लिए भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी बधाई। 

केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भाजपा की शानदार जीत पर खुशी जाहिर करते हुए लेह-लद्दाख की जनता का शुक्रिया अदा किया। नकवी ने कहा 370 के खात्मे एवं लेह-लद्दाख के संघशासित प्रदेश बनने के बाद, लेह स्वायत्त जिला विकास परिषद के चुनाव में भाजपा की शानदार जीत, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के संकल्प पर लेह-लद्दाख की जनता की पुख्ता मुहर है। लेह-लद्दाख की जनता का शुक्रिया। 

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने पिछले साल पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बांट दिया था। इसके लिए मतदान 22 अक्टूबर को हुआ था। कुल 89,776 पंजीकृत मतदाताओं में से 65.07 प्रतिशत लोगों ने 26 चुनाव क्षेत्रों में 294 मतदान केंद्रों पर अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था। चुनाव मैदान में कुल 94 उम्मीदवार थे। भाजपा और कांग्रेस ने सभी 26 सीटों पर प्रत्याशी उतारे थे। आम आदमी पार्टी (आप) ने 19 उम्मीदवार उतारे थे और तेईस निर्दलीय मैदान में थे।