मेघालय में गुरूवार को भाजपा ने दृष्टिपत्र जारी किया। जिसमें बीजेपी ने वादा किया कि सत्ता में आने पर वह गरीबी रेखा के नीचे जीवनयापन करने वाले (बीपीएल) परिवारों की महिलाओं के लिए मुफ्त सैनिटरी नैपकिन और दिहाड़ी मजदूरों को पेंशन देगी।

एक संवाददाता सम्मेलन में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा जारी घोषणापत्र में बीजेपी ने वादा किया है कि सत्ता में आने पर वह कोयला खनन पर रोक का समाधान निकालेगी क्योंकि इस पाबंदी के चलते हजारों परिवार प्रभावित हैं। इसके साथ ही भाजपा ने राज्य सरकार के कर्मचारियों से सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करने का भी वादा किया।

इतना ही नहीं उसने कहा कि वह बड़े उद्योगों के लिए निवेश का माहौल बनाएगी आैर बड़ी संख्या में रोजगार पैदा करेगी। बता दें बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह शुक्रवार को मेघालय में दो चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। शाह एक रैली को जोवई में और दूसरी रैली को मल्की मैदान में संबोधित करेंगे।


मेघालय में पर्यटन राज्य मंत्री के जे अल्फोंस पार्टी के प्रचार अभियान की अगुवाई कर रहे हैं। वैसे मेघालय में बीजेपी के लिए राह आसान नहीं है। मेघालय के मुख्यमंत्री मुकुल संगमा लगातार 4 बार से विधायक हैं। हालांकि वो इस बार दो सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं। मेघालय में 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए 27 फरवरी को चुनाव होंगे और उसका नतीजा तीन मार्च को आएगा. बीजेपी 47 सीटों पर चुनाव लड़ रही है और उसने किसी भी दल के साथ चुनाव पूर्व गठजोड़ नहीं किया है।