नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) की वरिष्ठ नेता और विधायक आतिशी ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल तथा उनके परिवार पर हमला करने वाले गुंडों को भारतीय जनता पार्टी ने सम्मानित करके भाजपा ने अपना असली चेहरा देश को दिखा दिया कि वो गुंडों की पार्टी है। आतिशी ने संवाददाता सम्मेलन में शुक्रवार को कहा कि भाजपा के सांसद तेजस्वी सूर्या के नेतृत्व में 31 मार्च को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरङ्क्षवद केजरीवाल के आवास पर हमला हुआ। इसमें कई भाजपा के कार्यकर्ता शामिल थे। 

सीएम के आवास में घुसने की और उनके परिवार पर हमला करने की कोशिश हुई। बूम बैरियर और सीसीटीवी कैमरा तोड़े गए और घर के दरवाजे पर हमला कर दिया। इस गुंडागर्दी को देखकर पूरा देश दंग रह गया कि अगर भाजपा के कार्यकर्ता और नेता एक चुने हुए मुख्यमंत्री के आवास पर मुख्यमंत्री और उसके परिवार पर हमला करने की कोशिश कर सकते हैं तो एक आम आदमी कैसे सुरक्षित रहेगा। उच्च न्यायालय ने इस मामले पर बहुत सख्त टिप्पणी की।

यह भी पढ़े : असम-मेघालय सहित 17 अप्रैल तक पुरे पूर्वोत्तर में भारी वर्षा जारी रहने की संभावना: IMD

 हाईकोर्ट ने कई दिनों तक आरोपियों को जमानत नहीं दी। उन्होंने कहा कि जब आठ दिन के बाद अदालत ने आरोपियों को जमानत दी तो भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने प्रदेश कार्यालय में इन लोगों को सम्मानित किया। उनको मालाएं पहनाई और तारीफ की है। इन गुंडों की तारीफ और सम्मान कर भाजपा ने अपना असली चेहरा पूरा देश को दिखा दिया है। उन्होंने दिखा दिया है कि भाजपा किस तरह की राजनीति करना चाहती है और गुंडों का सम्मान करती है। 

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से सीएम आवास पर गुंडागर्दी हुई यह कोई एक इकलौती घटना नहीं थी। भाजपा पार्टी का गुंडागर्दी का डीएनए है। मेरे पास ऐसे मामलों की लिस्ट है जहां पर भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा तोडफ़ोड़, गुंडागर्दी, लड़कियों के साथ छेड़छाड़, बलात्कार, किडनैपिंग की गई है। इन सब लोगों को भाजपा सम्मान देती और आगे बढ़ाती है। मुख्यमंत्री आवास पर हमले के बाद कुछ दिन पहले सोनिया विहार के यूजीआर पर भाजपा नेताओं द्वारा इसी प्रकार की गुंडागर्दी करने की कोशिश हुई। 

विधायक आतिशी ने कहा कि महिलाओं के साथ बलात्कार छेड़छाड़ भाजपा के नेताओं के लिए आम बात है। वहां पर छेड़छाड़ बलात्कार करने वाले नेताओं को आगे बढ़ाया जाता है और कैबिनेट में पद दिया जाता है। उन्नाव रेप केस में कुलदीप सेंगर का मामला सबको पता है। गुजरात के गैंग रेप केस में भाजपा के नेता शांतिलाल सोलंकी, गोविंद, पारुल मलानी, अजीत, मसंद शामिल थे। साक्षी महाराज के खिलाफ तरह तरह के मामले दर्ज हैं, जिसमें चोरी, गुंडागर्दी, 420 और मर्डर सहित सब शामिल हैं। स्वामी चिन्मयानंद के ऊपर रेप और छेड़छाड़ करने का आरोप है। 

यह भी पढ़े : Hanuman Jayanti 2022 : आज इस समय करें हनुमान जी की पूजा , देखिए पूजा का अभिजीत मुहूर्त, पूजा विधि


उत्तराखंड की सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे हरक सिंह रावत पर लड़कियों के साथ छेड़छाड़ के आरोप हैं। गोवा में भाजपा के एमएलए बाबूलाल पर नाबालिग के साथ रेप के आरोप, किडनैपिंग सहित हर तरह के आरोप हैं। उनको भाजपा ने कैबिनेट मंत्री का पद देकर सम्मानित किया। नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में ऐसे चार मंत्री हैं जिन पर मर्डर के आरोप हैं। जिसमें वी मुरलीधरन, जॉन बारला और नीतिश प्रमाणिक, पंकज चौधरी, शांतनु ठाकुर पर महिलाओं के साथ छेड़छाड़ के आरोप है। उन्होंने आरोप लगाया कि इससे यह समझ में आता है कि भारतीय जनता पार्टी नहीं बल्कि 'भारतीय गुंडा पार्टी है।'