कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तरुण गोगोई ने बीजेपी पर एक बार फिर से निशाना साधा हैं। उन्होंने कहा है कि बीजेपी की लोकप्रियता अब कम हो रही है और भगवा पार्टी दिल्ली में भी हार जाएगी। उन्होंने कहा कि किसी भी सभा या रैली में भारी भीड़ इकट्ठा होने का मतलब यह नहीं है कि जनता उस पार्टी का समर्थन करती हैे।


पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी दिल्ली में अपनी चुनावी रैलियों में भारी संख्या में जनता को जुटाने में सक्षम है, लेकिन पार्टी फिर से हार जाएगी। उन्होंने कहा कि लोग भाषण पर नहीं काम पर वोट करेंगेष उनकी सभाओं में भारी भीड़ जुटी, लेकिन उनकी लोकप्रियता अब कम हो रही है। दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे इसे साबित करेंगे।

पूर्व सीएम गोगोई ने कहा कि बीजेपी झारखंड, हरियाणा और महाराष्ट्र हार गई। लोगों का भरोसा कम हो रहा है। वे केवल भीड़ जुटाकर अपनी लोकप्रियता दिखाने की कोशिश कर रहे हैं।
उन्होंने हाल में हुए बोडो शांति समझौते को कॉस्मेटिक समझौते कहा। उन्होंने कहा कि प्रमुख समझौते पर 2003 में ही हस्ताक्षर कर दिए गए थे। हम लोग भी क्षेत्र में शांति चाहते हैं, संस्कृति, भाषा वकसित करना चाहते हैं, लेकिन बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल (बीटीसी) क्षेत्र के गैर-बोडो लोगों को इस समझौते से वंचित किया गया है और उनकी शिकायतों को भी नजरअंदाज किया जा रहा है, जबकि गैर-बोडो लोग इस क्षेत्र में बहुमत में हैं।


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने यह भी कहा कि असम में अशांति की स्थिति केवल सीएए के कारण बन रही है और इसके लिए प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री जिम्मेदार हैं।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360