भारतीय जनता पार्टी ने असम में एनआरसी अधिकारी प्रतीक हाजेला के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए उनका पुतला जलाया है। पार्टी कार्यकर्ताओं की तरफ से यह विरोध उस घटना की वजह से किया गया जिसमें एक महिला नाम ​एनआरसी की फाइनल लिस्ट में नहीं और उसने आत्म हत्या कर ली। पार्टी ने यह विरोध प्रदर्शन डिप्टी कमिश्नर कार्यालय के बाहर किया।

पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि एनआरसी में नाम नहीं आने की वजह से आत्महत्या करने वाली साबित्री रॉय की मौत के जिम्मेदार प्रतीक हाजेला हैं। आपको बता दें कि साबित्री देवी 4 सितंबर को असम की बराक वेली स्थित स्टेशन रोड़ इलाके में आत्महत्या कर ली थी। हालांकि इस घटना को लेकर पुलिस भाजपा के कस्बा अध्यक्ष मनब चक्रबर्ती को गिरफ्तार कर लिया।

असम के हेलाकांदी जिले के बराक वेली स्थित अपने घर के बाथरूम में बंद होकर साबित्री रॉय ने आग लगा ली थी। जिसके बाद उनको  SK Rai Civil Hospital में भर्ती कराया गया। बाद में उनको Silchar Medical College and Hospital में रेफर किया गया जहां उन्होंने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।