हिंदुओं पर बड़े कम्यूनिष्ट नेता ने ऐसी बात कही जिसकी वजह से भारतीय जनता पार्टी के कान खड़े हो सकते हैं। माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी ने भाजपा पर हिंदू वोट बैंक के ध्रुवीकरण की गंदी राजनीति करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) को इसी मकसद के लिये सरकार लागू कर रही है।

येचुरी ने असम में सीएए और एनआरसी के विरोध में माकपा द्वारा आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुये कहा कि सीएए, एनआरसी और एनपीआर एक ‘पैकैज’ की तरह है जिसे सत्ताधारी भगवा दल ने देश में हिंदू मुस्लिम समुदायों के बीच दरार पैदा करने के लिये पेश किया है। उन्होंने कहा कि इसके पीछे भाजपा का मकसद सामाजिक तनाव पैदा कर भय और हिंसा का वातावरण पैदा करना है जिससे देश में धर्म के आधार पर ध्रुवीकरण किया जा सके।

येचुरी ने कहा है कि भाजपा जानबूझकर कर हिंदू वोट बैंक की गंदी राजनीति कर रही है। इसका मकसद धार्मिक आधार पर ध्रुवीकरण करना है। यह देश के वर्तमान और भविष्य, दोनों के लिये बेहद खतरनाक है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360