कोरोना वायरस प्रतिबंधों (Corona virus restrictions) के कारण दो साल तक स्थगित रहने के बाद अब रविवार को बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक (BJP's national executive meeting) आयोजित होने जा रही है।  इस बैठक में मुख्य रूप से अगले साल उत्तर प्रदेश, पंजाब, गोवा (Assembly elections to be held in Uttar Pradesh, Punjab, Goa ) और अन्य राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की रणनीति और कोविड-19 टीकाकरण की मौजूदा स्थिति के बारे में चर्चा की जाएगी।  

इस बैठक में पार्टी नेताओं द्वारा प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Modi ) को 100 करोड़ टीके का लक्ष्य को पार करने पर बंधाई देते हुए एक प्रस्ताव पारित करने की संभावना है।  बैठक की शुरुआत भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के उद्घाटन (BJP National President JP Nadda)  भाषण से होगी। 

यह भाजपा की पहली राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक है जो कि हाइब्रिड तरीके से आयोजित की जा रही है।  इस बैठक में देश भर से पार्टी नेता शामिल होंगे जबकि वहीं कई अन्य लोग नई दिल्ली में शामिल होने के लिए पहुंचेंगे।  बैठक के समापन में प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी भाषण देंगे। 

 सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस बैठक लिए बीजेपी ने निर्देश दिया है कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के अलावा, केंद्रीय मंत्री, दिल्ली के राष्ट्रीय पदाधिकारी और राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य शारीरिक रूप से बैठक में भाग लेंगे।  अन्य सभी राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य, राज्य पार्टी अध्यक्ष और महासचिव भाग लेंगे। 

इन राज्यों के चुनावों पर होगा मंथन

दो साल बाद होने जा रही इस बैठक में बीजीपे मुख्य तौर पर अगले विधानसभा चुनावों को लेकर अपनी रणनीति और अलग अलग राज्यों में अपनी स्थिति को लेकर चर्चा करेगी।  एजेंडे में पार्टी के संगठन को मजबूत करना भी शामिल है।  बता दें कि 2022 की पहली छमाही में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर और पंजाब में विधानसभा चुनाव होने हैं। इन सभी राज्यों में सिर्फ पंजाब ही एक ऐसा राज्य है जहां भाजपा की सरकार नहीं है।  बीजेपी इस बैठक में यह भी चर्चा करेगी कि पिछली बार यूपी विधानसभा चुनाव के रिकॉर्ड को बरकरार रखा जाए। 

केंद्र सरकार की उपलब्धियों पर प्रस्ताव

बताया जा रहा है पार्टी द्वारा नरेंद्र मोदी सरकार को पिछले सात वर्षों में उसकी सभी उपलब्धियों के लिए बधाई देने के लिए एक राजनीतिक प्रस्ताव पारित करने की संभावना है, जिसमें दुनिया के सबसे बड़े कोविड टीकाकरण अभियान में भारत में 100 करोड़ से अधिक टीकाकरण खुराक देने के लिए प्रधान मंत्री और उनकी सरकार को बधाई देना शामिल है।  पार्टी बैठक में हर घर दस्तक कोविड टीकाकरण प्रोग्राम पर भी चर्चा करेगी। 

इसके अलावा बीजेपी कार्यकारिणी बैठक में गन्ना में एमएसपी मूल्य वृद्धि और सीधे तौर पर उसके लाभ का हस्तांतरण योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की घोषणा करके किसानों की सहायता के लिए केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए कदमों पर एक प्रस्ताव पारित करने की भी संभावना है।  इस प्रस्ताव में यह भी बताया जाएगा कि सरकार ने किन किन चुनौतियों को पार करके लोगों के हितों को प्राथमिकता दी। 

बैठक में शामिल होने वाले बड़े नेता पिछले दो वर्षों में हुए विधानसभा चुनावों और उसके परिणामों के बारे में भी चर्चा करेंगे।  इसमें हाल ही सम्पन्न हुए उपचुनाव भी शामिल हैं। पार्टी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में हार के लिए मंथन करने के साथ पहले के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन के लिए लिए बधाई भी देगी।  बंगाल विधानसभा चुनावों में पार्टी ने 70 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज की थी।