उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों (UP Assembly Elections 2022) से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को तगड़ा झटका लग सकता है। सूत्रों के अनुसार भाजपा सांसद रीता बहुगुणा जोशी के बेटे मयंक जोशी (mayank joshi may join sp) आज शाम समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। सपा के प्रवक्ता फखरुल हसन चांद (SP spokesperson Fakhrul Hasan Chand) ने दावा किया है कि समाजवादी पार्टी के लखनऊ के महत्वपूर्ण नेताओं को पार्टी दफ्तर बुलाया गया है और रीता बहुगुणा जोशी के बेटे मयंक आज शाम समाजवादी पार्टी जॉइन कर सकते हैं।


बता दें कि उत्तर प्रदेश में इलाहाबाद संसदीय क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की लोकसभा सांसद रीता बहुगुणा जोशी (Bjp Mp Rita Bahuguna Joshi) ने कहा था कि अगर आगामी विधानसभा चुनावों (Uttar Pradesh Assembly Elections) में उनके बेटे मयंक को टिकट दिया जाता है तो वे सांसद के पद से इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं। 

उन्होंने कहा था कि मयंक जोशी (Mayank Joshi) 2009 से अपने क्षेत्र के लोगों के लिए काम कर रहे हैं और उन्होंने लखनऊ कैंट से टिकट के लिए आवेदन किया है। ऐसे में अगर पार्टी प्रति परिवार केवल एक व्यक्ति को टिकट देने का फैसला करती है तो वे लोकसभा सीट से इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं। 2016 में भाजपा में शामिल हुईं पूर्व कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि उन्होंने (Rita Bahuguna Joshi) यह प्रस्ताव पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को भेजा है। उन्होंने कहा कि मैं वैसे भी हमेशा बीजेपी के लिए काम करती रहूंगी। पार्टी मेरे प्रस्ताव को स्वीकार या अस्वीकार करना चुन सकती है। मैंने पहले ही घोषणा कर दी थी कि मैं चुनाव नहीं लड़ूंगी।

रीता बहुगुणा जोशी (Rita Bahuguna Joshi) का कहना है कि उनका बेटा  (Mayank Joshi) जनता के लिए लगातार काम रहा है और पिछले काफी समय से राजनीति में सक्रिय है। ऐसे में उनके बेटे को टिकट मिलना ही चाहिेए। रीता बहुगुणा जोशी इस सीट से दो बार विधायक रह चुकी हैं और अब वो इस सीट से अपने बेटे को विधायक बनाना चाहती हैं। गौरतलब है कि रीता के अलावा बीजेपी में अपने बेटों के लिए टिकट मांगने की लिस्ट में बीजेपी सांसद जगदम्बिका पाल, केन्द्रीय मंत्री कौशल किशोर और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) का भी नाम शामिल है। इन सभी ने विधानसभा चुनाव के लिए अपने बेटों के लिए टिकट की मांग की है।