खूंटी में विवादित पत्थलगड़ी करने में राष्ट्रविरोधी शक्तियां शामिल हैं। आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा पूरी तरह से तैयार है। भाजपा का दूल्हा और बाराती भी तैयार है। विपक्ष के पास अबतक दूल्हा नहीं है और उन्होंने बारात निकाल दिया है। उक्त बातें भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने खूंटी में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहीं। उन्होने कहा कि झामुमो की बदलाव यात्रा पूरी तरह से फ्लाॅप रही। वह बदलाव यात्रा नहीं बल्कि भटकाव रैली थी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के जन आशीर्वाद यात्रा के तहत निकाली गई नुक्कड़ नाटकों में भी बदलाव यात्रा सेे अधिक भीड़ होती है।
 प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव अपने सहयोगी दलों को चोर कहते हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी यह जानना चाहती है कि कौन बड़ा चोर है, कौन छोटा चोर है, चोरोंं का सरगना कौन है। पत्रकारों से बातचीत करते प्रतुल शाहदेव नेे कहा कांग्रेस, झामुमो, झाविमो सभी धारा 370 हटाने का विरोध कर रहे थे। जबकि धारा 370 हटने से जम्मू कश्मीर के आदिवासी, अनुसूचित जाति, जनजाति के लोगों को लाभ मिलता। यह ये पार्टियां एक ओर झारखंड में आदिवासी हित की बात करते हैं, दूसरी ओर लद्दाख के आदिवासियोंं को लाभ मिलने पर विरोध कर रहे हैं। इन पार्टियों ने राष्ट्रवाद के साथ खिलवाड़ किया है।

 
प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि खूंटी जिल में नक्सल घटनाओं में कमी आयी है। 2014 में कुल 90 नक्सल घटनाएं हुई थी और 2019 में 31 घटनाएं हुई। पत्थलगड़ी पर उन्होंनेे कहा की भाजपा ने सयंम तरीके से पत्थलगड़ी के विकृत परिभाषा पर कार्य किया। विवादित पत्थलगड़ी करने में राष्ट्रविरोधी शक्तियां शामिल हैं। पत्थलगड़ी कराने वाले बहरूपिये हैं। प्रशासन की कार्रवाई होने पर वे रूप बदल लेते हैं। सरकार ने ऐसे शक्तियों को पहचान ली है। इसमें धर्मांतरण कराने वाले लोग शामिल हैं। उन्होंने कहा कि महागठबंधन में विशेष धर्म के धर्मगुरू शामिल हैं जो चुनाव के समय क्षेत्र में घूम घूम कर वोट मांगने का काम करते हैं। चुनाव आयोग से इन धर्मगुरूओं पर नकेल कसने की मांग की जायेगी।