भाजपा (BJP) ने अपने सभी लोकसभा सांसदों को व्हिप (Lok Sabha MPs) जारी कर संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन 29 नवंबर को सदन में मौजूद रहने को कहा है। सरकार सोमवार को ही कृषि कानूनों की वापसी से जुड़े विधेयक कृषि कानून निरसन विधेयक- 2021 (Agricultural Laws Repeal Bill- 2021) को लोकसभा में पेश करने जा रही है। सरकार की मंशा चर्चा के बाद सोमवार को ही इस विधेयक को लोकसभा से पारित करवाने की भी है और इसलिए पार्टी ने अपने सभी लोकसभा सांसदों को व्हिप जारी कर सदन में मौजूद रहने को कहा है।

पार्टी के मुख्य सचेतक ( चीफ व्हिप ) द्वारा भाजपा के सभी लोकसभा सांसदों (Lok Sabha MPs) को जारी किए गए तीन लाइन के व्हिप में कहा गया है कि लोक सभा में कुछ अति महत्वपूर्ण विधायी कार्य चर्चा एवं पारित करने के लिए सोमवार 29 नवंबर को लाये जायेंगे। व्हिप में, पार्टी के सभी लोकसभा सांसदों को सोमवार को सारे दिन पूरे समय सदन में अनिवार्य रूप से उपस्थित रहकर सरकार के पक्ष का समर्थन करने को कहा गया है।

दरअसल तीनों कृषि कानूनों (Farm Laws) की वापसी से जुड़े विधेयक को सरकार ने शीतकालीन सत्र के पहले ही दिन , सोमवार के लिए लोकसभा में सूचीबद्ध कर दिया है। लोकसभा के लिस्ट ऑफ बिजनेस के मुताबिक सोमवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Union Agriculture Minister Narendra Singh Tomar) कृषि कानून निरसन विधेयक, 2021 को सदन में पेश करेंगे। सरकार की मंशा सोमवार को ही इस विधेयक पर चर्चा कराकर इसे सदन से पारित करवाने की भी है। सरकार सदन में इस विधेयक पर चर्चा करवा कर विरोधी दलों के दोहरे स्टैंड को देश की जनता के सामने रखना चाहती है। सदन में चर्चा के जरिए ही सरकार, कृषि और किसानों के कल्याण को लेकर अपनी कमिटमेंट के बारे में देश की जनता खासकर किसानों को एक संदेश भी देना चाहती है।