दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) उपचुनाव के नतीजे आ गए हैं। आम आदमी पार्टी (आप) ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पांच में से चार वार्ड में जीत दर्ज की है, जबकि एक सीट कांग्रेस के खाते में गई। बीजेपी का खाता नहीं खुला है। इस जीत के बाद आप कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाना शुरू कर दिया है। कार्यकर्ताओं ने नारे लगाए- 'हो गया काम, जय श्री राम'

शालीमार बाग वार्ड से आप उम्मीदवार सुनीता मिश्रा ने 2705 वोट से जीत दर्ज की। उन्हें कुल 9764 वोट मिले, जबकि बीजेपी उम्मीदवार सुरभि जाजू को 7059 वोट मिले। त्रिलोकपुरी वार्ड से आप उम्मीदवार विजय कुमार ने 4986 वोट से जीत दर्ज की। उन्हें 12845 वोट मिले, जबकि बीजेपी उम्मीदवार ओम प्रकाश को 7859 वोट मिले।

कल्याणपुरी में आप उम्मीदवार धीरेंद्र कुमार ने 7043 वोट से जीत दर्ज की। उन्हें कुल 14302 वोट मिले, जबकि BJP उम्मीदवार सिया राम को 7259 मिले। इसके साथ ही रोहिणी सी से भी आप प्रत्याशी ने जीत दर्ज की। चौहान बांगर वार्ड से कांग्रेस उम्मीदवार जुबेर अहमद ने 10642 वोट से जीत दर्ज की है। उन्हें 16203 वोट मिले।

जिन वार्डों में आम आदमी पार्टी की जीत हुई है, उनमें कल्याणपुरी और त्रिलोकपुरी अनुसूचित जाति वोटरों से प्रभावित है। शालीमार बाग में झुग्गी से संबंधित वोटर ज्यादा है, जबकि रोहिणी की वार्ड में अनधिकृत कॉलोनी के वोटरों ने अपनी पसंद आम आदमी पार्टी में दिखाई है। आप को बड़ा झटका नॉर्थ ईस्ट दिल्ली की चौहान बांगर सीट पर मिला है।

मुस्लिम बहुल चौहान बांगर सीट पर आप के उम्मीदवार और पूर्व विधायक हाजी इशराक 10642 वोटों से चुनाव हार गए हैं। उन्हें कांग्रेस के मोहम्मद जुबेर ने हराया जो कि पूर्व विधायक चौधरी मतीन अहमद के बेटे हैं। पिछले साल इसी इलाके में दंगे हुए थे और उसके बाद मुस्लिम वोटर आम आदमी पार्टी सरकार से नाराज बताए जा रहे हैं।

एमसीडी उपचुनाव में आम आदमी पार्टी को 46.10% वोट मिला तो वही दूसरे नंबर पर भारतीय जनता पार्टी को 27.29 प्रतिशत वोट प्राप्त हुआ। तीसरे नंबर पर कांग्रेस को 21.84% वोट मिला, जबकि बहुजन समाज पार्टी को 2.50% वोट मिला।  इसी तरह निर्दलीयों को 1.64% वोट मिला तो नोटा पर भी 0.63% वोट रहा।

आप की इस जीत पर डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा, 'एमसीडी उपचुनाव में 5 में से 4 सीटें जीतने पर आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई। बीजेपी के शासन से दिल्ली की जनता अब दुखी हो चुकी है। अगले साल होने वाले एमसीडी चुनाव में जनता अरविंद केजरीवाल जी की ईमानदार और काम करने वाली राजनीति को लेकर आएगी।