महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिंदे-भाजपा गठबंधन ने ग्राम पंचायत चुनाव में बड़ी जीत का दावा किया है। महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने दावा किया कि 50 फीसदी से ज्यादा नवनिर्वाचित सरपंचों ने इस गठबंधन का समर्थन किया है। 

ये भी पढ़ेंः Chandigarh University MMS Case में एक और बड़ा खुलासा, बेचे गए छात्राओं के अश्लील वीडियो!


उन्होंने कहा कि रविवार को 16 जिलों की 547 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान हुआ था। उस दौरान 76 फीसदी जनता ने मतदान किया, इसके बाद मतों की गिनती शुरु हुई। उनका दावा है कि पार्टी समर्थित 259 और शिंदे गुट की शिवसेना समर्थित 40 उम्मीदवार सरपंच बने हैं। ग्राम पंचायत चुनावों के अलावा गांव के सरपंच भी सीधे चुने गए। बावनकुले ने कहा कि ग्राम पंचायत चुनाव के नतीजों ने आज महाराष्ट्र के शिंदे-फडणवीस सरकार में विश्वास की पुष्टि की है। 

ये भी पढ़ेंः राहुल का केंद्र पर हमला, कहा- पेट्रोल-डीजल के भारी दाम ने मछुआरों का धंधा किया चौपट


वहीं एकनाथ शिंदे की बगावत के चलते सत्ता गंवाने वाले उद्धव ठाकरे को शिवसेना में आए संकट के बाद पहली बार हुई सियासी परीक्षा में असफलता हाथ लगी है। शिवसेना के खाते में केवल 20 सीटें आई हैं। हालांकि शरद पवार की पार्टी एनसीपी को भी बड़ी जीत हासिल हुई और उसके खाते में 188 सीटें आई हैं। वहीं कांग्रेस को 53 सीटें मिली हैं। एकनाथ शिंदे ने चुनाव को लेकर कहा कि भाजपा और हमारे गठबंधन के लिए यह शुरुआत करने जैसा है। हम लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे। वहीं देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि इन नतीजों ने हमारे गठबंधन पर मुहर लगा दी है।