पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई अब पूरी तरह चुनाव मोड़ पर आ गए हैं। उन्होंने दावा किया है कि भाजपा और अगप के बीच चुनावी गठजोड़ राज्य और अगप के बीच चुनावी गठजोड़ राज्य की जनता को कांग्रेस से जु़ड़ने के लिए और अधिक प्रेरित करेगा। जाहिर है कि इसका फायदा कांग्रेस को ही मिलेगा। 

गोगोई के मुताबिक अगप ने असम की जनता से विश्वाघात किया है। उसका कोई भविष्य नहीं रह गया है। राज्य की जनता को मालूम है कि नागरिकता कानून संशोधन विधेयक को लेकर कांग्रेस ने क्या किया है। लोगों ने समझ लिया है कि कांग्रेस उनके प्रति प्रतिबद्ध है।
पूर्व मुख्यमंत्री के मुताबिक सच्चाई यह है कि राज्य के लोगों के सामने कांग्रेस को मतदान के अलावा और कोई विकल्प नहीं बचा। उन्हें भरोसा है कि लोग कांग्रेस को ही मतदान करेंगे। उन्होंने कहा कि जैसे कि वे अनुभव कर रहे हैं, भाजपा और अगप का गठजोड़ कांग्रेस के लिए वरदान साबित होने जा रहा है।
इस गठजोड़ ने सत्ता की अपनी भूख का खुलासा कर दिया है। नागरिकता विधेयक पर दो महीने तक एक-दूसरे पर बंदूकें ताने दोनों पार्टियां अब चुनाव के समय कांग्रेस को हराने के नाम पर फिर साथ आ गई हैं। एआईयूडीएफ से गठजोड़ की संभावना  पर फिर विराम लगाते हुए गोगोई ने कहा कि वे एक अवैध-विवाह की बजाए प्रेम-विवाह के पोषक हैं। वे किसी हाल में दोनों पार्टियों के गठजोड़ का समर्थन नहीं करेंगे।