बिहार के विभिन्न जिलों में पिछले कुछ दिनों में कथित तौर से शराब पीने से हुई मौत के बाद मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (nitish kumar) पटना में शराबबंदी (liquor ban in bihar) को लेकर उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक कर रहे हैं, वहीं वैशाली जिले में एक अधिकारी को शराब के नशे में गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना मिली कि महनार प्रखंड के प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी अरूण कुमार सिंह (Arun kumar singh) शराब के नशे में धुत होकर गांधी उच्च विद्यालय के पास हंगामा कर रहे हैं। इसी सूचना के आधार पर पूरे मामले की जांच के लिए सहदेई बुजुर्ग सहायक थाना (ओपी) की प्रभारी सुनीता कुमारी को निर्देश दिया गया। सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम तत्काल घटनास्थल पर पहुंच कर प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी सिंह को गिरफ्तार कर लिया। अधिकारी को गिरफ्तार करने के बाद उनकी चिकित्सकीय जांच करवाई गई, जहां शराब पीने की पुष्टि हो गई है।

ओपी प्रभारी सुनीता कुमारी ने बताया कि इस मामले की प्राथमिकी दर्ज करने की प्रक्रिया की जा रही है।उल्लेखनीय है कि बिहार के मुजफ्फरपुर, गोपालंगज, समस्तीपुर तथा पश्चिम चंपारण जिले में पिछले दिनों कथित तौर शराब पीने से तीन दर्जन से अधिक लोगों की मौत (death by drinking) हो गई है। इसे लेकर विपक्ष लगातार सरकार पर निशाना साध रही है। इस बीच, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मंगलवार को शराबबंदी को लेकर पटना में उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक कर रहे हैं। इस बैठक में मंत्री, वरिष्ठ अधिकारी तथा सभी जिला के वरीय अधिकारी भी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जुड़े हुए हैं।