बिहार के हाजीपुर में जेल प्रशासन की अमानवीय करतूत सामने आई है। यहां जेल में एक कैदी की मौत हो गई जिसके बाद जेल प्रशासन ने मरे हुए कैदी को हथकड़ियों में बांधकर अस्पताल पहुंचा दिया। इसके बाद अब नाकामी छिपाने के लिए प्रशासन इस मामले की लीपापोती करने में लगा है।


यह भी पढ़ें : लाखों दिलों पर राज करती है असम की ये एक्ट्रेस, ऐसे मनाया अपनी मां का बर्थडे


यह पूरा मामला हाजीपुर जेल में एक कैदी की मौत का है। यहां दोपहर करीब 3 बजे हाजीपुर जेल प्रशासन एक कैदी को लेकर अस्पताल पहुंचा था। खबर है कि लालगंज थाने में एक आपराधिक मामले में जेल में बंद कैदी बीमार था, जिसकी मौत हो गई थी। लालगंज के राजकिशोर नाम का बुजुर्ग 4 दिन पहले जेल पहुंचा था और अचानक उसकी मौत की खबर मिली।


जेल में कैदी की मौत हो चुकी थी, लेकिन अपनी नाकामी और लापरवाही छिपाने के लिए जेल प्रशासन मुर्दा कैदी को बीमार बताकर अस्पताल लेकर पहुंचा था। जिले के अधिकारियों को भी जेल प्रशासन ने खबर दी कि कैदी बीमार है। परिजनों को भी कैदी की मौत की खबर देने की बजाय जेल प्रशासन ने खुद को बचाने के लिए चिट्ठी लिख कर खबर दी।

यह भी पढ़ें : बेहद खूबसूरत हैं अ​सम की एक्ट्रेस Barsha Rani Bishaya, तस्वीरें देख आ जाएगा दिल


जेल प्रशासन ने परिजनों से कहा कि बीमार कैदी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। परिजन भागे-भागे अस्पताल पहुंचे तो अस्पताल में कैदी का शव मिला। परिजनों को बताया गया कि कैदी बीमार था और अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हुई है, लेकिन अस्पताल ने जेल प्रशासन की पोल खोल दी।