बिहार के कैमूर जिले के दुर्गावती थाना क्षेत्र में अजीबोगरीब मामला प्रकाश में आया है, जहां एक मुर्गे की हत्या का मामला थाने की चौखट तक जा पहुंचा है। यह मामला इन दिनों इस क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

पुलिस के एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया, दुर्गावती थाना क्षेत्र के तिरोजपुर गांव निवासी कमला देवी का पड़ोस के ही एक परिवार से विवाद चल रहा था। दो दिन पूर्व भी किसी बात को लेकर दोनों परिवारों में विवाद हो गया। इसर क्रम में पड़ोसी ने दौड़ा कर कमला देवी के पालतू एक मुर्गे को पकड़ लिया और उसे मार डाला।

आरोप है कि इस दौरान आरोपी ने कमला देवी और उसके पुत्र इंदल के साथ भी मार-पीट की। मोहनिया के पुलिस उपाधीक्षक रघुनाथ सिंह ने बताया, कमला देवी के बयान पर इस मामले की एक प्राथमिकी भादवि की धारा 429, 341, 323 के तहत दर्ज कर ली गई है, जिसमें सात लोगों को आरोपी बनाया गया है। प्रावधान के मुताबिक मृत मुर्गे का पोस्टमार्टम प्रखंड पशु अस्पताल दुर्गावती में कराया गया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मुर्गे की गर्दन पर ब्लेड चलने का प्रमाण मिला है। पुलिस उपाधीक्षक ने कहा कि पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।