हाथरस घटना के बाद अब तेजस्वी यादव का दोमुंहा चेहरा सामने आया है। हाथरस पर बीजेपी को घेरने वाले तेजस्वी ने बिहार में रेपिस्ट राजबल्लभ यादव की पत्नी को टिकट दिया है। राजबल्लभ 10वीं की बच्ची से रेप के मामले दोषी है। राजबल्लभ जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा है। वहीं, तेजस्वी ने उसकी पत्नी पर मेहरबानी दिखाई है।
दरअसल, 2016 नवादा से आरजेडी के विधायक रहे राजबल्लभ यादव के ऊपर नाबालिग लड़की से रेप के आरोप लगे थे। उसके बाद राजबल्लभ फरार हो गया था। उस वक्त बिहार में महागठबंधन की सरकार थी। नीतीश कुमार लगातार प्रेशर था कि वह कार्रवाई करे। बाद में लालू यादव की पार्टी ने राजबल्लभ को सस्पेंड कर दिया था। उसके बाद राजबल्लभ ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। राजबल्लभ यादव पर बिहारशरीफ की एक नाबालिग लड़की ने 6 फरवरी 2016 को रेप का केस दर्ज कराई थी।

इस मामले में करीब 2 साल की सुनवाई के बाद 15 दिसंबर 2018 को पटना की एक अदालत ने तत्कालीन विधायक राजबल्लभ समेत 6 लोगों को दोषी करार दिया। 21 दिसंबर को सजा सुनाई गई थी। इसमें राजबल्लभ यादव को उम्रकैद की सजा हुई थी। साथ ही उसके ऊपर 50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया था। उसके बाद से राजबल्लभ जेल में है।
आरजेडी ने लोकसभा चुनाव में भी राजबल्लभ की पत्नी विभा देवी को टिकट दिया था। उस दौरान राबड़ी देवी भी विभा के लिए नवादा में वोट मांगने गई थीं। राबड़ी देवी ने कहा था कि सभी लोगों से मेरी अपील रहेगी, जिस तरह राजबल्लभ को ये लोग फंसाने का काम किया, जेल भेजने का काम किया, यादवों को बदनाम करने का काम किया है... विभा देवी प्रत्याशी हैं, विभा देवी को जिताने का काम करिएगा। लेकिन विभा देवी चुनाव हार गई थीं।