भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आज दावा किया कि चुनाव बाद के सर्वेक्षणों (एग्जिट पोल) में महागठबंधन को आगे बताया जा रहा है, लेकिन कल मतों की गिनती के बाद जब चुनाव परिणाम आएगा तो वह राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के पक्ष में होगा। 

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने आज कहा कि बिहार में संपन्न तीनों चरणों के चुनाव में जनता के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लेकर खासा उत्साह रहा और भारी संख्या में मतदाताओं ने रजाग के पक्ष में वोट किया है। हालांकि अंतिम चरण के मतदान के बाद 07 नवंबर की शाम में जो एग्जिट पोल दिखाए गए थे, उसमें बढ़त भले ही महागठबंधन को मिलता दर्शाया गया हो, लेकिन 10 नवंबर के एग्जेक्ट पोल (वास्तविक मतगणना) के नतीजे राजग के पक्ष में आएंगे। 

उन्होंने कहा कि कल ही दोपहर 12 बजे तक यह तय हो जाएगा कि बिहार में भारी बहुमत से राजग सरकार बनने जा रही है और नीतीश कुमार फिर से बिहार के मुख्यमंत्री पद की कमान संभालेंगे। हुसैन ने कहा कि सभी को याद होगा कि वर्ष 2015 में एग्जिट पोल में राजग की सरकार बनने की ओर इशारा किया गया था, लेकिन उस वक्त यह गलत साबित हुआ था । उस समय राजग में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) शामिल नहीं था। उन्होंने कहा कि इसी तरह अब तक कई एग्जिट पोल गलत साबित हो चुके हैं। इसके पीछे की वजह एग्जिट पोल का सैंपल साइज होता है जो कि राज्य की आबादी के हिसाब से काफी छोटा होता है इसलिए वास्तविक स्थिति नही आ पाती है। 

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि उनकी पार्टी बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से मिले फीडबैक के आधार पर आंकलन करती है और इस लिहाज से भाजपा का सैंपल साइज एग्जिट पोल के सैंपल साइज के कई गुना बड़ा होता है। इसी आंकलन के आधार पर वह यह कह सकते हैं कि एग्जिट पोल के नतीजे महागठबंधन के लोगों के लिए दो दिन की खुशी लेकर आई है। कल जब एग्जैक्ट पोल की मतगणना शुरू होगी तो भारी बहुमत से राजग की सरकार बिहार में फिर से वापसी करेगी और बिहार के हित में फिर से अगले पांच साल के लिए नीतीश कुमार सुशासन और विकास का राज स्थापित करेंगे।