बिहार में तीसरे और अंतिम चरण में पंद्रह जिले की 78 विधानसभा सीटों और वाल्मीकिनगर लोकसभा क्षेत्र उपचुनाव के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच आज सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया। राज्य निर्वाचन कार्यालय के अनुसार, इन 78 विधानसभा सीट के लिए 33782 मतदान केंद्र पर वोटिंग सुबह सात बजे शुरू हो गई, जो शाम छह बजे तक चलेगी, लेकिन सुरक्षा कारणों से पश्चिम चंपारण जिले के वाल्मीकिनगर एवं रामनगर (सुरक्षित) तथा सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर और महिषी विधानसभा क्षेत्र में मतदान सुबह सात शुरू होकर अपराह्न चार बजे तक चलेगा।  

बता दें कि यहां की 24 सीटों पर मुस्लिम आबादी 40 से 70 प्रतिशत के बीच है। हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM की एंट्री से इस क्षेत्र में NDA और महागठबंधन के बीच की लड़ाई त्रिकोणीय हो गई है। पार्टी ने सीमांचल क्षेत्र की 24 मुस्लिम बहुल सीटों में से 14 पर उम्मीदवार उतारे हैं। असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम ने पिछले साल अक्टूबर में किशनगंज विधानसभा उपचुनाव में जीत हासिल करने के बाद न सिर्फ बिहार में खाता खोला था बल्कि एनडीए और महागठबंधन में हलचल भी मचा दी थी।

वाल्मीकि नगर संसदीय क्षेत्र के लिये उपचुनाव भी सुबह सात बजे शुरू हो गया है। नालंदा जिले के हिलसा विधानसभा क्षेत्र के तीन मतदान पुर्नमतदान भी हो रहा। इस विधानसभा क्षेत्र के मतदान केन्द्र संख्या 52, 52 (क) और 55 पर पुर्नमतदान कराया जा रहा है। हिलसा में तीन नवंबर को मतदान संपन्न होने के बाद मतपेटियों को स्ट्रॉन्ग रूम में जमा कराने लिये ले जाया जा रहा था, इसी दौरान दुर्घटना के कारण तीन मतदान केन्द्रों की इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) पानी में गिर गई। इसकी सूचना आयोग को तुरंत दे दी गयी थी। आयोग ने इसके बाद पुर्नमतदान कराने का आदेश दिया। पंद्रह जिलों के कई मतदान केंद्र पर सुबह से ही मतदाताओं की कतारें लग गई हैं। 

ग्रामीण इलाकों में सुबह-सुबह मतदान करने के इच्छुक मतदाताओं की कतारें ज्यादा लंबी देखी जा रही है। सभी विधानसभा क्षेत्र में शांतिपूर्ण मतदान के लिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं। सभी मतदान केन्द्रों पर अद्र्धसैनिक बलों की तैनाती की गयी है। इसके साथ ही घुड़सवार दस्ते और हेलिकॉपटर के जरिये उपद्रवियों पर नजर रखी जायेगी। आपात स्थिति के लिये विशेष हेलिकॉप्टर भी तैनात किए गए हैं। कोरोना काल में हो रहे देश के पहले बड़े चुनाव में मतदाताओं और मतदानकर्मियों के संक्रमण से बचाव के लिए भी व्यापक इंतजाम किए गए हैं। सभी मतदान केंद्रों पर सैनिटाइजर, ग्लव्स और मास्क की व्यवस्था की गई है। 

मतदान केंद्र के अंदर प्रवेश करने से पहले सभी मतदाताओं की थर्मल स्कैनिंग की जा रही है।  तीसरे चरण में 78 विधानसभा सीट के लिए 110 महिला और 1094 पुरुष प्रत्याशी समेत 1204 उम्मीदवार चुनावी अखाड़े में हैं। आज 33782 मतदान केंद्र पर दो करोड़ 35 लाख 54 हजार 71 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम में कैद कर देंगे। इनमें एक करोड़ 23 लाख 25 हजार 780 पुरुष, एक करोड़ 12 लाख पांच हजार 378 महिला, 894 थर्ड जेंडर और 22019 सेवा मतदाता शामिल हैं। सेवा मतदाताओं में 21019 पुरुष और एक हजार महिला हैं। गायघाट विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 31 जबकि ढाका, त्रिवेणीगंज, जोकीहाट और बहादुरगंज विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम नौ-नौ प्रत्याशी भाग्य आजमाने उतरे हैं। 

वहीं, वाल्मीकिनगर संसदीय सीट के उपचुनाव के लिये सात उम्मीदवार मैदान में हैं और 2478 मतदान केंद्र पर 921133 पुरुष, 806609 महिला और 95 थर्ड जेंडर समेत 17 लाख 27 हजार 837 मतदाता इन प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। आज जहां चुनाव हो रहा है उनमें वाल्मीकि नगर, रामनगर (सु), नरकटियागंज, बगहा, लौरिया, सिकटा, रक्सौल, सुगौली, नरकटिया, मोतिहारी, चिरैया, ढाका, रीगा, बथनाहा (सु), परिहार, सुरसंड, बाजपट्टी, हरलाखी, बेनीपट्टी, खजौली, बाबूबरही, बिस्फी, लौकहा, निर्मली, पिपरा, सुपौल, त्रिवेणीगंज (सु), छातापुर, नरपतगंज, रानीगंज (सु), अररिया, फारबिसगंज, जोकीहाट, सिकटी, बहादुरगंज, ठाकुरगंज, किशनगंज, कोचाधामन, अमौर, बायसी, कस्बा, बनमनखी (सु), रुपौली, धमदाहा, पूर्णिया, कटिहार, कदवा, बलरामपुर, प्राणपुर, मनिहारी (सु), बरारी, कोढ़ा, आलमनगर, बिहारीगंज, ङ्क्षसघेश्वर (सु), मधेपुरा, सोनबरसा (सु), सहरसा, सिमरी बख्तियारपुर, महिषी, दरभंगा, हायाघाट, बहादुरपुर, केवटी, जाले, गायघाट, औराई, बोचहा (सु), सकरा, कुढऩी, मुजफ्फरपुर, महुआ, पातेपुर(सु),कल्याणपुर (सु), वारिसनगर, समस्तीपुर, मोरवा और सरायरंजन शामिल है। 

जिन दिग्गजों की प्रतिष्ठा दाव पर लगी है उनमें जनता दल यूनाइटेड (जदयू) कोटे के मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव, नरेंद्र नारायण यादव, रमेश ऋषिदेव, खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद, लक्ष्मेश्वर राय, बीमा भारती, मदन सहनी और महेश्वर हजारी, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कोटे से मंत्री प्रमोद कुमार, सुरेश शर्मा, विनोद नारायण झा और कृष्ण कुमार ऋषि शामिल हैं। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, विपक्ष के कद्दावर नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी और रमई राम जैसे दलित नेताओं की किस्मत का फैसला इसी चरण में होना है। इनके अलावा भाजपा के दिवंगत नेता एवं पूर्व मंत्री विनोद ङ्क्षसह की पत्नी निशा ङ्क्षसह और स्व. कपिलदेव कामत की बहू मीना कामत भी चुनाव लड़ रही है। उल्लेखनीय कि 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा के चुनाव के लिये पहले चरण में 28 अक्टूबर को 71 सीट पर और दूसरे चरण में 94 सीट के लिए तीन नवंबर को चुनाव संपन्न हो चुका है। अब तीसरे और अंतिम चरण में 78 सीट के लिए आज वोट डाले जा रहे हैं। मतों की गिनती 10 नवंबर को होगी।