भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया ने आज दावा किया कि बिहार विधानसभा के प्रथम चरण का मतदान संपन्न होने के बाद स्पष्ट हो गया है कि दो तिहाई से अधिक सीटों पर जीत दर्ज कर फिर से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की सरकार बनेगी। 

भाटिया ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कोविड-19 के बावजूद प्रथम चरण में 55 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया है। इससे राज्य का हौसला बढ़ा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में फिर से राजग की सरकार बनेगी। कोरोना संकट में इतना अधिक मतदान होना साबित करता है कि प्रदेश के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास के मॉडल को अपनाया है। 

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि बिहार में दो विचारधारा की लड़ाई है। जो जंगलराज और परिवारवाद बिहार के लोगों ने देखा है उस कालखंड में फिर से लौटना नहीं चाहते। उन्होंने कहा कि बिहार में राजनीतिक समझदारी काफी अधिक है और यहां के लोगों की पहली पसंद डबल इंजन की सरकार है।  भाटिया ने कहा कि जब नीतीश कुमार मुख्यमंत्री बने तब प्रदेश में सुशासन और कानून का राज स्थापित हुआ। राजग सरकार ने लोगों से सिर्फ वादे ही नहीं किए बल्कि उसे पूरा भी किया है। बिहार सकारात्मक सोच के साथ ईमानदारी से किए गए कार्य से ही आज आगे बढ़ रहा है। 

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि पार्टी ने अपने संकल्प पत्र में कहा है कि कोरोना का जब भी टीका आएगा तो उसे बिहार के लोगों को मुफ्त में दिया जाएगा। इससे कुछ लोगों के पेट में दर्द हो रहा है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश और तमिलनाडु की सरकार ने भी कहा है कि कोरोना का टीका मुफ्त में दिया जाएगा। यह सोच भाजपा की दूरदर्शिता का ही परिणाम है। भाटिया ने कहा कि बिहार के जंगलराज में माफियाओं की चला करती थी। उस कालखंड में दो भाइयों को तेजाब से जला कर जहां मार दिया गया वहीं इसके गवाह की भी हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा कि बिहार में सुशासन की सरकार है और अटूट विश्वास के साथ इस पर मुहर लगा दिया है। उन्होंने राजद का मतलब समझाते हुए कहा कि ‘र’ से रंगदारी, ‘ज’ से जंगलराज और ‘ड’ से डकैती होता है। यह चुनाव तय करेगा कि सुशासन ही सबसे बड़ा मुद्दा है।