बिहार विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण में 28 अक्टूबर को होने वाले मतदान को लेकर अब चुनावी प्रचार में तेजी आ गई है। राष्ट्रीय स्तर से लेकर क्षेत्रीय स्तर तक के नेता चुनावी मैदान में अपने-अपने प्रत्याशी को विजयी बनाने के लिए पसीना बहा रहे हैं। इसी क्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी सारण के परसा विधानसभा क्षेत्र में एक चुनावी सभा को संबोधित किया।

जदयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार के मंच पर राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद की पुत्रवधू ऐश्वर्या राय भी अपने पिता चंद्रिका राय के साथ उपस्थित रहीं। इस क्रम में उन्होंने नीतीश के पैर छूकर आशीर्वाद भी लिया।लालू के पुत्र तेजप्रताप की पत्नी ऐश्वर्या ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, मैं आप सभी से अपील करने आई हूं कि आप अपना वोट देकर मेरे पिताजी को विजयी बनाएं और नीतीश कुमार को फिर से मुख्यमंत्री बनाएं। यह परसा विधानसभा क्षेत्र के मान सम्मान की बात है।

उन्होंने राजनीति में भी आने के संकेत देते हुए कहा, मैं कुछ ही समय बाद आप लोगों के बीच आऊंगी।इधर, बिहार के मुख्यमंत्री ने भी तेजप्रताप यादव और ऐश्वर्या के दांपत्य जीवन में आई कटुता को लेकर कहा कि जो भी हुआ, वह अच्छा नहीं है। नीतीश ने कहा, एक पढ़ी लिखी महिला से इस तरह व्यवहार हुआ। प्रकृति ने इस कृत्य के लिए लिए कोई न कोई व्यवस्था की ही होगी। शादी में हमलोग गए थे लेकिन उसके बाद जो हुआ, वह किसी को अच्छा नहीं लगा। उन्होंने कहा कि ऐसा करने वालों का अभी समझ में नहीं आ रहा है। इस दौरान सभा में हंगामा करने वालों पर नीतीश कुमार भडक़ भी गए। नीतीश ने अपने संबोधन में किए गए विकास भी चर्चा की।

उल्लेखनीय है कि परसा विधानसभा क्षेत्र से चंद्रिका राय जदयू के उम्मीदवार हैं। वे यहां से राजद के टिकट पर पिछला चुनाव जीते थे। ऐश्वर्या राय की शादी लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव से हुई थी। बाद में तेजप्रताप ने पटना की एक अदालत में तलाक की अर्जी दी है। चंद्रिका राय बाद में जदयू का दामन थाम लिया।