बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर अब तक चुनाव आयोग ने भले ही तिथियों की घोषणा नहीं की है, लेकिन राजनीतिक दल अपनी रणनीतियों को सरजमीं पर उतारकर खुद को बेहतर साबित करने में जुट गए हैं। इस बीच, राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में सबु कछ ठीक नहीं चल रहा है।

लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने शुक्रवार को यहां के करीब सभी समाचार पत्रों में एक पेज का विज्ञापन प्रकाशित किया। इसमें अपने संकल्प को दोहराते हुए सभी राजनीतिक दलों को आड़े हाथों लिया गया है, वहीं इसे लेकर हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी ने चिराग पासवान को ललकारा है।लोजपा के विज्ञापन में लिखा है, आओ बनाएं नया बिहार, युवा बिहार, चलो चलें युवा बिहारी के साथ।

लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल में भी अपने नाम के आगे ’युवा बिहारी’ जोड़े हुए हैें। इससे पहले भी पासवान बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट का नारा देते हुए बिहार में यात्रा कर चुके हैं। विज्ञापन में सभी दलों को आड़े हाथों लेते हुए कहा गया है, वो लड़ रहे हैं, हम पर राज करने के लिए और हम लड़ रहे हैं बिहार पर नाज करने के लिए। इसके अलावे विज्ञापन में पार्टी ने धर्म और जाति की राजनीति नहीं करने की बात करते हुए लिखा है, ’धर्म ना जात - करे सबकी बात’।

उल्लेखनीय है कि पिछले कई दिनों से राजग के दोनों घटक दलों -- लोजपा और जदयू के रिश्ते में खटास आई है। लोजपा के अध्यक्ष चिराग पासवान कई मुद्दों पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को घेरते रहे हैं। इधर, हाल ही में राजग में शामिल हुए हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने शुक्रवार को चिराग को चेतावनी देते हुए कहा कि लोजपा अगर जदयू के हानि की बात करती है, तो उसी रूप में उसका प्रतिकार किया जाएगा। उन्होंने कहा, लोजपा अगर जदयू के खिलाफ उम्मीदवार खड़ा करेगा तो वैसी सभी लोजपा की सीट के खिलाफ मेरा उम्मीदवार होगा। चिराग अगर नीतीश कुमार के खिलाफ आवाज उठाएंगे तो जवाब मैं दूंगा।

राजग के दोनों घटक दलों में आई कड़वाहट के कारण अब विपक्ष मजे ले रहा है। राजद के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा, राजग में किस तरह आग लगेगी ये देखना बाकी है, क्योंकि, राजग (एनडीए) के घर के ’चिराग’ से आग लगनी तय है। इधर, मांझी भी राजग में नीतीश जी के साथ खड़े हैं, तो नैया डूबनी तय है।’