गणतंत्र दिवस के मौके पर गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह को मरणोपरांत पद्मविभूषण से नवाजा गया है। इसको लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रदेश के पद्म पुरस्कार विजेताओं को शुभकामनाएं दी हैं। इसके अलावा सीएम ने पूर्व केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज, अरुण जेटली और जॉर्ज फर्नांडिस को भी मरणोपरांत पद्मविभूषण दिए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त की है। 

शनिवार को गणतंत्र दिवस के मौके पर दिए जाने वाले पद्म पुरस्कारों का ऐलान कर दिया गया था इसके तहत 7 लोगों को पद्म विभूषण, 16 लोगों को पद्म भूषण और 118 लोगों को पद्मश्री पुरस्कार दिए जाएंगे। जॉर्ज फर्नांडिस, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली और विश्वेशातीर्थ को मरणोपरांत तथा सर अनिरुद्ध जुगनाथ, एमसी मैरी कॉम, छन्नूलाल मिश्रा को पद्मविभूषण पुरस्कार दिया गया है।

बिहार से संबंध रखने वाले जॉर्ज फर्नांडिस और वशिष्ठ नारायण सिंह को मरणोपरांत पद्मविभूषण पुरस्कार दिए जाने पर सीएम नीतीश कुमार ने प्रसन्नता व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने इसके अलावा प्रदेश के संजय कुमार गुहा, विमल कुमार जैन, डॉ. शांति राय, शांति जैन, श्याम सुंदर शर्मा और रामजी सिंह को पद्मश्री मिलने पर बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। 

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बिमल जैन को पद्म पुरस्कार मिलने पर खुशी जताई है। उन्होंने शनिवार को ट्वीट कर जैन को बधाई दी। उन्होंने कहा, 'अंगदान आंदोलन में सहयोग देने, 30 हजार से ज्यादा दिव्यांगों को कृत्रिम अंग प्रदान करने तथा सुधारात्मक सर्जरी में योगदान देने के लिए बिमल जैन को पद्म श्री से पुरस्कृत किए जाने पर उन्हें बधाई।' गौरतलब है कि विमल जैन जेपी आंदोलन के आंदोलनकारी रहे हैं। उन्होंने बिहार में दिव्यांगों के कल्याण के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान दिया है। 

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360