बिहार बंद के दौरान डाकबंगला चौराहे पर हुई मारपीट और हंगामा में देर रात कोतवाली में नगर मजिस्ट्रेट की ओर से 20 नामजद पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई। साथ ही, 250 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर की गई। नामजद आरोपितों में पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव, पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा, जगदानंद सिंह, जय प्रकाश नारायण, अब्दुल बारी सिद्दीकी समेत कई बड़े नेताओं के नाम शामिल हैं। इसकी पुष्टि एएसपी विधि व्यवस्था कोतवाली स्वर्ण प्रभात ने की है।

बता दें कि राजद के बिहार बंद के दौरान शनिवार को फुलवारी शरीफ के टमटम पड़ाव पर दो गुटों के बीच पथराव और गोलियां चलीं। दस लोगों को गोली लगी है और पथराव से दोनों पक्षों के करीब दो दर्जन लोग घायल हैं। आधा दर्जन पुलिसकर्मी भी घायल हैं। गोली से घायल हुये लोगों का इलाज पटना एम्स में चल रहा है। एक की हालत नाजुक बतायी जाती है। 

उपद्रवियों को शांत करने के लिए पुलिस ने पहले लाठीचार्ज किया। फिर भी भीड़ शांत नहीं हुई तो हवाई फायरिंग करनी पड़ी। करीब ढाई सौ राउंड आंसू गैस के गोले भी दागे। दरअसल, शहीद चौक से बंद समर्थकों का जुलूस संगतपर इलाके की ओर से होकर फुलवारी ब्लॉक पर जाने के लिये निकला। इसी बीच टमटम पड़ाव और संगतपर के बीच भीड़ में असामाजिक तत्व शामिल हो गये।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360