कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बीजेपी से कांग्रेस में आए नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस की कमान सौंप दी है। सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाए जाने के साथ-साथ चार कार्यकारी अध्यक्ष की भी नियुक्ति की गई है। यह खबर आते ही सिद्धू के घर के बाहर मिठाइयां बांटी जाने लगी। सिद्धू खेमे के विधायकों का दावा है कि पार्टी आलाकमान के इस फैसले में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की भी सहमति है।

कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नवजोत सिंह सिद्धू को तत्काल प्रभाव से पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्त किया है। इसके साथ ही चार कार्यकारी अध्यक्षों की भी नियुक्ति की गई है। सोनिया गांधी ने जिन चार नेताओं का पंजाब कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया है, उनमें संगत सिंह गिलाजियान, सुखविंदर सिंह डैनी, पवन गोयल और कुलजीत सिंह नागरा का नाम शामिल है।

पंजाब कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष ने अपना फैसला सुना दिया है। हालांकि, इस फैसले पर कैप्टन गुट की प्रतिक्रिया नहीं आई है। ऐसे में कैप्टन और जिम्मेदारी संभालने के बाद सिद्धू का रुख काफी अहम होगा। क्योंकि, दोनों के बीच पिछले दो साल से टकराव के हालात हैं। सिद्धू बिजली व बेअदबी सहित कई मुद्दों पर सोशल मीडिया के जरिए मुख्यमंत्री पर सवाल उठा चुके हैं।