हरियाणा के स्टूडेंट्स के लिए बड़ी खबर है. हरियाणा बोर्ड इस बार कक्षा 5वीं और 8वीं की परीक्षा नहीं लेगा. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने सोमवार, 21 फरवरी 2022 को इस संबंध में घोषणा की है. हरियाणा बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन द्वारा राज्य के सभी स्कूलों में क्लास 5 और क्लास 8 बोर्ड एग्जाम्स आयोजित होने वाले थे. लेकिन कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर पैरेंट्स द्वारा इस परीक्षा का विरोध किया जा रहा था. आखिरकार, हरियाणा सीएम ने बीएसईएच 5वीं और 8वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा इस साल रद्द करने का फैसला लिया है.

बोर्ड परीक्षाओं के विरोध में कई गुरुग्राम में कई प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के पैरेंट्स सोमवार को सड़क पर उतर आए थे. वे हरियाणा सरकार द्वारा क्लास 5 और 8 बोर्ड एग्जाम कराए जाने के फैसले का विरोध कर रहे थे. उनकी मांग थी कि ये एग्जाम कैंसिल किए जाएं. कोरोना संक्रमण अभी थमा नहीं है. ऐसे में ये परीक्षाएं इस साल नहीं होनी चाहिए. 

अभिभावकों के विरोध प्रदर्शन के बाद हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि ‘हरियाणा बोर्ड क्लास 5 और 8 की परीक्षा होगी या नहीं, इस मुद्दे पर चर्चा के लिए 25 फरवरी 2022 को बैठक होनी थी. हम देखेंगे कि यह बैठक करने की जरूरत अब है या नहीं, लेकिन हमने फैसला लिया है कि इन दोनों कक्षाओं के लिए इस साल बोर्ड परीक्षा नहीं ली जाएगी.’

खट्टर ने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण बच्चों की पढ़ाई का नुकसान हुआ है. इसे ध्यान में रखते हुए इस शैक्षणिक सत्र में कक्षा 5वीं और 8वीं के लिए बोर्ड एग्जाम नहीं लेने का फैसला लिया जा रहा है. इन दोनों कक्षाओं के लिए बोर्ड परीक्षाएं अगले साल से होंगी. इस सेशन के लिए स्कूलों से कहा गया है कि वे अपने स्तर पर एग्जाम्स ले लें. 

अक्टूबर 2021 में बीएसईएच ने हरियाणा के सभी सरकारी और निजी स्कूलों में क्लास 5 और 8 के लिए बोर्ड एग्जाम कराने का प्रस्ताव दिया था. 18 जनवरी को हरियाणा सरकार शिक्षा का अधिकार अधिनियम में संशोधन के लिए नोटिफिकेशन लेकर आई. एससीईआरटी को इन परीक्षाओं का शैक्षणिक प्राधिकार बनाया गया. 28 जनवरी को एससीईआरटी ने बीएसईएच को परीक्षा कराने की जिम्मेदारी दी थी.