हज 2021 के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 10 दिसंबर से बढ़ाकर 10 जनवरी 2021 तक कर दी गयी है।  केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने गुरुवार को यहां हज हाउस हज 2021 के संबंध में बैठक की अध्यक्षता की।  हज 2021 के लिए आवेदन की अंतिम तिथि को बढ़ा कर 10 जनवरी 2021 तक कर दिया गया है साथ ही हज यात्रियों के अनुमानित खर्च में भी कमी की गई है।  अब तक 40 हजार से ज्यादा आवेदन प्राप्त हो चुके हैं।  मुस्लिम महिलाओं द्वारा बिना मेहरम के 500 से ज्यादा आवेदन प्राप्त हुए हैं। 

इम्बार्केशन पॉइंट के अनुसार हज 2021 के खर्च के आंकलन एवं सऊदी अरब से प्राप्त फीडबैक के आधार पर प्रति हज यात्री सम्भावित खर्च भी कम किया गया है।  अहमदाबाद और मुम्बई इम्बार्केशन पॉइंट्स से जाने वाले हज यात्रियों का अनुमानित खर्च लगभग तीन लाख 30 हजार रूपए, बंगलुरु, लखनऊ, दिल्ली और हैदराबाद इम्बार्केशन पॉइंट्स से जाने वाले हज यात्रियों का अनुमानित खर्च लगभग 3.50 लाख रूपए होगा।  कोच्चि एवं श्रीनगर इम्बार्केशन पॉइंट्स से जाने वाले हज यात्रियों का अनुमानित खर्च लगभग 3.60 लाख रूपए, कोलकाता से जाने वाले हज यात्रियों का लगभग 3.70 लाख रूपए और गुवाहाटी इम्बार्केशन पॉइंट से जाने वाले हज यात्रियों का अनुमानित खर्च लगभग चार लाख रूपए होगा। 

कोरोना महामारी के चलते दिशानिर्देशों को ध्यान में रखते हुए हज 2021 के लिए  व्यवस्थाओं में बड़े पैमाने पर परिवर्तन किया गया है।  इनमें भारत एवं सऊदी अरब में आवास, सऊदी अरब में हज यात्रियों के ठहरने की अवधि, यातायात, स्वास्थ्य एवं अन्य व्यवस्थाएं शामिल हैं।