संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर हुआ भारत बंद समाप्त हो चुका है। गाजीपुर बॉर्डर स्थ्ति नेशनल हाइवे 9 पर सुबह से बैठे किसान आ उठ चुके हैं। हाइवे से उठने से पहले किसान नेताओं ने भाषण देकर भारत बंद समाप्त कर दिया है। दरअसल सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक का भारत बंद कहीं कहीं नजर आया, गाजियाबाद स्थित मॉल्स में आम दिनों के मुकाबले ग्राहकों की आवाजाही रही। मॉल में कार्यकत व्यक्ति ने बताया, भारत बंद का कोई असर इस मॉल पर नजर नहीं आया, लोग सुबह से शॉपिंग के लिए पहुंचे।

दूसरी ओर नेशनल हाइवे 9 बंद होने के कारण राहगीरों ने दिल्ली जाने के लिए वैकल्पिक रास्ता चुना और दिल्ली में प्रवेश किया। इस दौरान कई चौराहों पर जाम जैसी स्थिति नजर भी आई। दिल्ली के कनॉट प्लेस पर भी भारत बंद का कोई खासा असर नहीं दिखा, आम दिनों की तरह ही कनॉट प्लेस में दुकानें खुलीं और लोगों ने शॉपिंग भी की। किसानों ने भारत बंद के दौरान विभिन्न जगहों पर ट्रेनें रोकी, और कई जगहों पर सडक़ों को भी बाधित रखा। हालांकि किसानों का भारत बंद अब समाप्त हो चुका है और किसी तरह की कोई हिंसक घटना अब तक सामने नहीं आई है।

किसानों द्वारा शुरू में ही कहा गया था कि भारत बंद शांतिपूर्ण रहेगा। वहीं भाकियू नेता युद्धवीर सिंह को पुलिस द्वारा हिरासत में लिए जाने के बाद किसानों में आक्रोश नजर आया। गाजीपुर बॉर्डर से कुछ किसान ट्रैक्टर लेकर सडक़ों पर पहुंचे, लेकिन उन्हें पुलिस द्वारा समझाया गया और सडक़ों से हटा लिया गया। किसानों के भारत बंद को लेकर जगह जगह पर पर्याप्त पुलिस बल मौजूद रहा। बॉर्डर पर सीआईएसएफ जवानों के अलावा पैरामिट्री फोर्सेस के जवान भी तैनात दिखे। हालांकि किसान अब इस भारत बंद के बाद क्या रणनीति बनाएंगे इसपर गौर करना बाकी है। सरकार के साथ 11 दौर की बातचीत विफल होने के बाद के बाद सरकार और किसान फिर से बातचीत के टेबल पर नहीं बैठ पाए हैं।