अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफ़ान ताऊ ते के अगले 12 घंटे में और तीव्र (सिवीयर) तथा 24 घंटे में अति तीव्र (वेरी सिवीयर) श्रेणी के तूफ़ान में परिवर्तित होने तथा 18 मई को गुजरात के नलिया और पोरबंदर के बीच से तट से टकराने का अनुमान व्यक्त किया गया है। मौसम विभाग से आज मिली जानकारी के अनुसार इसके अति तीव्र तूफ़ान में बदलने और गुजरात तट से टकराने के दौरान हवाओं की रफ़्तार 155 से लेकर 175 किमी प्रति घंटा तक हो सकती है। 

इसके साथ भारी से अति भारी वर्षा भी हो सकती है। फ़लिहाल इसके आस पास हवाओं की गति 85 से 95 किमी प्रति घंटा है जो आज देर रात तक 110 से 135 किमी प्रति घंटा और कल तक 155 किमी प्रति घंटा तक पहुंच जाएगी। पूर्व मध्य और इससे लगे दक्षिण पूर्व अरब सागर में उठा यह तूफ़ान आज सुबह साढ़े पांच बजे गुजरात के वेरावल तट से 960 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व में स्थित था। इसके 18 मई की दोपहर से लेकर शाम तक गुजरात में पोरबंदर तथा नलिया के बीच तट से टकराने और गुजारने का अनुमान है। 

इस बीच, राज्य सरकार तूफ़ान के गुजरात की ओर बढऩे की आगाही के मद्देनजर हरकत में आ गयी है। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि तूफ़ान की गति और दिशा पर बारीकी से नजर रखी जा रही है। इस हिसाब से तैयारी भी की जा रही है। उधर, किसी भी स्थिति से निपटने के लिए उड़ीसा से भी एनडीआरएफ की कुछ टुकड़ियों को गुजरात बुलाया जा रहा है। जरूरत पडऩे पर तटवर्ती इलाक़ों से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाएगा।