Zoom पर ऑनलाइन कॉल के दौरान 900 कर्मचारियों को नौकरी से निकालना खड़ूस बॉस को भारी पड़ गया है। अमेरिकी कंपनी बेटर डॉट कॉम (Better.com) के सीईओ विशाल गर्ग ने अपने ऐसे रवैये के लिए अब लेटर लिखकर कर्मचारियों से माफी मांगी है।

विशाल का वह वीडियो सोशल मीडिया पर जबरदस्त वायरल हुआ था। इसमें वो खराब प्रदर्शन का हवाला देकर कर्मचारियों का निकालने का ऐलान कर रहे हैं। इसकी दुनियाभर में सोशल मीडिया पर काफी आलोचना हुई।

विशाल ने जिस तरीके से कर्मचारियों को निकाला उस पर लोगों को आपत्ति है। शायद इसी को समझते हुए अब विशाल गर्ग ने माफी मांगी है और उन्होंने यह स्वीकार किया है कि उनका तरीका गलत था और उनसे भारी चूक हुई है।

विशाल गर्ग ने कर्मचारियों को लिखे अपने लेटर में कहा है, 'मैं उन लोगों के प्रति पर्याप्त सम्मान और आभार प्रकट करने में विफल रहा जो मेरे निर्णय से प्रभावित हुए हैं। छंटनी के अपने निर्णय पर मैं अब भी कायम हूं, लेकिन इसे लागू करने में मुझसे भारी चूक हुई है। इस तरह से मैंने आपको लज्जित किया है। मुझे यह आभास हुआ कि जिस तरह से मैंने इस खबर की जानकारी दी, उससे हालात और बिगड़े।

आपको बता दें कि ऑनलाइन हाउसिंग फाइनेंस (Housing Finance) सुविधा देने वाली अमेरिकी कंपनी बेटर डॉट कॉम (Better.com) ने एक झटके में 900 से अधिक कर्मचारियों की छंटनी (Layoff) कर दी थी। इन लोगों को जूम कॉल (Zoom Call) पर एक साथ नौकरी से निकाल दिया गया।

कार्यक्षमता, प्रदर्शन और उत्पादकता में कमी का हवाला देकर सीईओ विशाल गर्ग ने जूम कॉल के दौरान ही एक झटके में 900 लोगों नौकरी से निकाल दिया था। बेटर डॉट कॉम के सीईओ विशाल गर्ग (Vishal Garg) ने पिछले सप्ताह बुधवार को यह कदम उठाया।

गर्ग ने उस जूम कॉल पर कहा, 'अगर आप इस कॉल पर हैं तो आप उन अनलकी लोगों में से हैं, जिन्हें नौकरी से निकाला जा रहा है। आप लोगों की नौकरी अभी इसी वक्त से समाप्त हो रही है। आप लोगों को इसकी एवज में क्या फायदे मिलेंगे, जल्दी ही इस बारे में एचआर से ईमेल की उम्मीद करिए।

कंपनी ने इस कदम के लिए बैलेंसशीट (Balance sheet) को ठोस बनाना और फोकस्ड वर्कफोर्स (Focused Workforce) तैयार करना वजह बताया है। हालांकि कंपनी को पिछले सप्ताह ही एक सौदे के तहत 750 मिलियन डॉलर कैश मिले हैं। इससे कंपनी के पास बैलेंसशीट में एक बिलियन डॉलर से अधिक रकम हो जाएगी।