अगर आप भी निवेश की योजना बना रहे हैं तो आपके लिए पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (PPF) सबसे बेहतरीन विकल्प हो सकता है। यह निवेश के लिहाज से सबसे सुरक्षित माना जाता है। साथ ही इसमें अच्छा रिटर्न भी मिलता है। केंद्र सरकार (central govt) की गारंटी वाली इस स्कीम में आप सही स्ट्रैटेजी के साथ अपने हजारों रुपये को लाखों बना सकते हैं। इसके साथ एक और फायदा इंटरेस्ट पर मिलने वाली इनकम टैक्स की छूट का है। PPF में मैच्योरिटी की राशि पर भी टैक्स (TAX) नहीं लगता।

PPF में अभी निवेश करने पर आपको 7.1 प्रतिशत का इंटरेस्ट रेट मिल सकता है। यह रेट 30 सितंबर तक की अवधि के लिए है। इसकी मैच्योरिटी की अवधि 15 वर्ष की होती है और इशके बाद इनवेस्टर अपनी राशि निकलवा सकता है या निवेश को जारी रखने का विकल्प चुन सकता है। मैच्योरिटी के बाद निवेश को पांच वर्ष की अवधि के लिए बढ़ाया जा सकता है।

अगर आप PPF में हर महीने 1,000 हजार रुपये जमा करते हैं तो 15 वर्षों में आपके पास लगभग 3.25 लाख रुपये जमा हो जाएंगे। यह राशि आपके निवेश की अवधि के दौरान इंटरेस्ट रेट में बदलाव नहीं होने के अनुमान पर तय की गई है। इस 3.25 लाख रुपये की राशि में से लगभग 1.80 लाख रुपये आपकी ओर से किया गया निवेश और लगभग 1.45 लाख रुपये आपके फंड पर 15 वर्षों के दौरान मिला इंटरेस्ट है।

अगर आप मैच्योरिटी के बाद इसे पांच वर्षों के लिए बढ़ाते हैं तो आपको 5.32 लाख रुपये मिल सकते हैं। इसके बाद इस निवेश को पांच वर्ष के लिए और बढ़ाने पर आपको लगभग 8.24 लाख रुपये मिलेंगे। इसी तरह अगर आप अपने निवेश को पांच वर्ष के लिए बढ़ाते रहते हैं तो आपको अपने लक्ष्य के करीब पहुंचने में मदद मिलेगी। अगर आप PPF में निवेश की शुरुआत से इसी तरह आगे बढ़ते हैं तो लगभग 35 वर्षों में आप 18 लाख रुपये की बचत कर सकेंगे।