हिंदू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार पेड़-पौधों में भी देवी-देवताओं का वास माना गया है। माना जाता है कि खास पेड़-पौधों को घर में लगाकर उसकी नियमित पूजा करने से ग्रह दोष दूर होते हैं। इसके साथ ही विशेष लाभ भी प्राप्त होता है। वास्तु शास्त्र में कुछ खास पौधों के बारे में बताया गया है, जिसकी रोजाना पूजा करने से जीवन में आर्थिक समस्या नहीं आती हैं।

तुलसी (Tulsi)
हिंदू धर्म में तुलसी को बहुत पवित्र माना गया है। इसकी परित्रता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि किसी भी चीज में इसका मात्र एक पत्ता देने से वह शुद्ध हो जाता है। ऐसे में तुलसी का पौधा घर में लगाकर रोजाना सुबह शाम पूजा करने से घर में किसी भी तरह का वास्तु दोष नहीं रहता। इसके अलावा तुसली का संबंध धन की देवी लक्ष्मी से भी है। ऐसे में नियमित तौर पर इनकी पूजा आर्थिक परेशानियां दूर करने में सहयक है।

शमी का पौधा (Shami Plant)
शमी के पौधे से शनिदेव और भोलेनाथ का संबंध माना जाता है। शमी पौधे को घर में लगाकर रोजाना इसकी पूजा करने से सुख-शांति बनी रहती है। माना जाता है कि भगवान शिव और शनिदेव को इसकी पत्तियां चढ़ाने से हर प्रकार की परेशानी दूर होती है। वास्तु मुताबिक शमी के पौधे को घर के उत्तर-पूरब या दक्षिण दिशा में लगाना चाहिए।

केले का पौधा (Banana Tree)
केले के पौधे में देवगुरु बृहस्पति का वास माना गया है। इसके अलावा भगवान विष्णु भी इसमें निवास करते हैं। केले का पौधा घर के पीछे लगाना चाहिए। नियमित केले की पूजा करने से घर में सुख-समृद्धि का आगमन होता है।

दौना (Davana)
तुसली की तरह भी दौना का भी पौधा है। दौना धार्मिक और वैज्ञानिक महत्व है। धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक दौना की पूजा तुलसी की तरह ही की जाती है। वास्तु के मुताबिक दौना के पौधे को घर के दक्षिण-पश्चिम दिशा में लगाना शुभ है। इसके अलावा रोजाना इसकी पूजा करने से जल्द ही कर्ज से छुटकारा मिलता है।