बिहार में भाजपा के साथ सरकार चला रही नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल-युनाइटेड पश्चिम बंगाल चुनाव में अपने दम पर पूरे दमखम से उतरेगी। जदयू 75 सीटों पर चुनाव लडऩे की तैयारी कर चुका है।पश्चिम बंगाल में अगले साल चुनाव होना है। संभावना जताई जा रही है कि जदयू वहां अकेले चुनाव मैदान में उतर सकता है।

जदयू के पश्चिम बंगाल प्रभारी गुलाम रसूल बलियावी ने कहा कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में पार्टी 75 सीटों पर चुनाव लडऩे की तैयारी कर रही है। उन्होंने कहा कि हम पिछले तीन साल से पश्चिम बंगाल में चुनाव लडऩे की तैयारी कर रहे हैं। गांव-गांव और शहर-शहर घूमकर अपने लिए 75 सीटें चिन्हित की गई हैं, जहां जदयू चुनाव लड़ सकता है। अन्य पार्टियों से गठबंधन करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल इकाई का 75 सीटों पर चुनाव लडऩे का फैसला है, इसके बाद अध्यक्ष को तय करना है।

भाजपा के साथ आमने-सामने की लड़ाई के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि जब चुनाव होगा, तब जनता इसका फैसला करेगी, अभी से क्या कहना। उन्होंने कहा कि भाजपा से जदयू का बिहार में गठबंधन है। इससे पहले भी हम झारखंड सहित कई अन्य राज्यों में अकेले चुनाव लड़ चुके हैं। बलियावी ने कहा कि जदयू पहले भी पश्चिम बंगाल में चुनाव लड़ चुकी है। उल्लेखनीय है कि इस साल बिहार में हुए विधानसभा चुनाव में जदयू, भाजपा, हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा और विकासशील इंसान पार्टी चुनाव मैदान में उतरी थी। इनमें सबसे अधिक सीटों पर भाजपा के प्रत्याशी विजयी हुए।