पश्चिम बंगाल के खड़गपुर में विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा को संबोधित किया है। संबोधन में पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर कई हमले किए और आरोप भी लगाए। जनता को पीएम मोदी ममता की कमियां गिनाई है। पीएम ने ममता बनर्जी पर हमला करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष की कई बार जान लेने की कोशिश हुई लेकिन वह डरे नहीं, डटकर ममता दीदी को चुनौती दी है।

पश्चिमी मेदिनीपुर के खड़गपुर में रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ममता पर तंज कसते हुए कहा कि  '' बीजेपी के130 के करीब कार्यकर्ताओं ने अपना जीवन न्यौछावर कर दिया ताकि बंगाल आबाद रहे। दिलीप घोष ना चैन की नींद सोए हैं न दीदी की धमकियों से डरे हैं। उनको मौत के घाट उतारने की कितनी कोशिशें हुई लेकिन नाकाम रहे और वो बंगाल के उज्ज्वल भविष्य का प्रण लेकर चल पड़े और आज पूरे बंगाल में नई ऊर्जा भर रहे हैं ''।

मोदी ने रैली में कई तरह के मुद्दों पर बात की है और बीजेपी के अच्छे कार्यों को गिनाते हुए कई चुनाव वादे भी किए हैं। मोदी ने कहा कि  'बंगाल में शिक्षक भर्ती के नाम पर बंगाल का युवा कोर्ट कचहरी के चक्कर काट रहा है। वो (ममता बनर्जी) कहती हैं कि खेला होबे...यहां के लोग कहते हैं कि खेला शेष होबे और विकास आरंभ होबे।' पीएम ने ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी पर पर भाइपो तंज कसते हुए हमला किया है और कहा कि भाइपो का मतलब बंगाली में भतीजा होता है।