बंगाल में पांचवें चरण के लिए बीजेपी ने पूरा दमखम लगा दिया हैं।  उत्तर बंगाल के दार्जिलिंग में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह एनआरसी को लेकर ममता बनर्जी पर हमला बोला।  अमित शाह ने कहा एनआरसी को लेकर ममता बनर्जी अफवाह फैलाकर गोरखा समुदाय को डरा रही हैं।  सच्चाई यह है कि एनआरसी लाने के लिए अभी कोई योजना नहीं है। 

अमित शाह ने यह भी दोहराया अगर एनआरसी लायी भी जाएगी तो उससे गोरखा समुदाय को डरने की जरूरत नहीं।  एनआरसी को लेकर उन्होंने यह भी कहा, इससे किसी को नुकसान पहुंचने वाला नहीं है।  इस मंच से अमित शाह ने कहा, गृह मंत्री होने के नाते मैं कह रहा हूं कि कोई भी गोरखा को एनआरसी से डराए तो आपको डरने की कोई जरूरत नहीं हैं।  आपको बस यही कहना है कि यह मेरी भूमि है। 

अमित शाह ने कहा, गोरखा समस्या का स्थायी समाधान केवल बीजेपी ही कर सकती है।  एनआरसी को घुसपैठियों के लिए खतरा बताते हुए अमित शाह ने कहा, एनआरसी से केवल घुसपैठियों को डरने की जरूरत हैं।  कोई गोरखा घुसपैठियां नहीं हो सकता हैं।  अमित शाह ने ममता बनर्जी पर हमला बोला और कहा गोरखा समुदाय और बीजेपी के बीच ममता बनर्जी फूट डालने की कोशिश कर रही हैं लेकिन इस बार चुनाव में उन्हें हराकर गोरखा समुदाय अपने ऊपर हुए अत्याचार का बदला लेंगे। 

चुनावी मंच से अमित शाह ने कहा दुनिया की ऐसी कोई ताकत नहीं हैं जो गोरखा को डरा सके।  इसके साथ ही अमित शाह ने गोरखाओं से अपील की है, इस बार कमल के निशान पर बटन दबाकर ममता बनर्जी को जवाब देने का वक्त आ गया हैं। दार्जिलिंग की तीनों सीटों पर भाजपा और सहयोगी दलों की जीत होनी चाहिए।  बता दें कि इन तीन सीटों पर ममता बनर्जी ने जीजेएम से समझौता किया हैं।  इन तीन सीटों पर टीएमसी ने अपने कैंडिडेट्स नहीं उतारे हैं।  इसके अलावा अमित शाह ने यहां जनता से यह भी अपील की, कमल की बटन पर इतने जोर से दबाकर वोट देना है जिसका झटका कोलकाता में ममता बनर्जी को लगे।