बंगाल की लोकप्रिय अभिनेत्री सरबंती चटर्जी  (Bengal actor Srabanti Chatterjee) ने गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से इस्तीफा (Srabanti Chatterjee quits BJP) दे दिया। वह पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हुयी थी। चटर्जी ने एक मार्च को भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) और तात्कालीन प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुयी थी। चटर्जी ने ट्वीट किया, भाजपा से सभी नाते तोड़ रही हूं, पार्टी की टिकट से मैंने पिछला विधानसभा चुनाव लड़ा था। उन्होंने कहा, इसका कारण उनकी पहल की कमी और बंगाल के मुद्दे को ईमानदारी से आगे नहीं बढ़ाना है। उन्होंने पिछला विधानसभा चुनाव अप्रैल-मई में लड़ा और बेहाला पश्चिम से राज्य मंत्री पार्थ चटर्जी से हार गई थी।

वहीं पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर के पूर्व मंत्री करम श्याम (Former Minister Karam Shyam) बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गये। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सारदा अधिकारीमयुम ने यहां पार्टी कार्यालय में लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) (LJP MLA) विधायक के. श्याम के भाजपा में शामिल होने पर उनका स्वागत किया। श्याम राज्य में लोजपा के एकमात्र विधायक हैं। उन्होंने एन बीरेन सिंह (N Biren Singh) सरकार को अपना समर्थन दिया था और उस समय वह उपभोक्ता मामलों के मंत्री थे। 

उन्हें 24 दिसंबर 2020 को मंत्री पद से हटा दिया गया था। उन्होंने लंगथाबल विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ संबित पात्रा (Sambit Patra), अभय गिरी, महासचिव तथा मणिपुर और नागालैंड के अन्य पदाधिकारी मौजूद थे। इससे पहले आठ नवंबर को कांग्रेस के पूर्व विधायक राजकुमार इमो सिंह और यमथोंग हाओकिप पार्टी मुख्यालय नयी दिल्ली में भाजपा में शामिल हुये थे। अगले साल मार्च में एन बीरेन सिंह सरकार का कार्यकाल समाप्त हो रहा है।