केंद्रीय मंत्रिमंडल में आज शाम को विस्तार किया जाएगा, उससे पहले कुछ मंत्रियों के इस्तीफे का सिलसिला शुरू हो गया है. अब से कुछ देर पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने अपना इस्तीफा प्रधानमंत्री को सौंप दिया है. वहीं यह भी खबर है कि देबाश्री चौधरी को भी मंत्रिमंडल से हटाया जा सकता है और उनसे भी इस्तीफा मांगा गया है. साथ ही यह भी संभावना जताई जा रही है कि शाम तक कुछ और मंत्री भी इस्तीफा सौंप सकते हैं.

गौरतलब है कि मोदी मंत्रिमंडल में विस्तार करीब 2 साल बाद हो रहा है और करीब 20 नए मंत्रियों को शामिल किया जा सकता है, वहीं कुछ मंत्रियों के काम से असंतुष्ट प्रधानमंत्री मोदी उन्हें हटा भी सकते हैं. इसी कारण मंत्रिमंडल में शामिल कुछ सदस्यों से इस्तीफे भी मांगे जा रहे हैं. गौरतलब है कि आगामी कुछ माह में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं. इसी के मद्देनजर कैबिनेट में भी बदलाव किया जा रहा है. साथ ही कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कारण निर्मित हुए विपरीत परिस्थितियों के कारण सरकार की काफी किरकिरी हुई थी, इसलिए भी प्रधानमंत्री मोदी डैमेज कंट्रोल करते हुए कैबिनेट में फेरबदल कर रहे हैं.