भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी BCCI ने उस खेल पत्रकार पर 2 साल का बैन लगा दिया है जिसने रिद्धिमान साहा को डराने और धमकाने की कोशिश की थी। अब बीसीसीआई ने बोरिया मजूमदार पर 2 साल का बैन लगाने का फैसला किया है। इसके चलते वो अगले 2 साल तक किसी भी घरेलू, नेशनल और इंटरनेशनल क्रिकेट मैच का हिस्सा नहीं होंगे। यहां तक कि बीसीसीआई इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आईसीसी से भी गुहार लगाएगी कि आईसीसी इवेंट में इस खेल पत्रकार को स्टेडियम में घुसने का मौका न मिले।

यह भी पढ़ें : मेघालय की खूबसूरती को देखना हुआ आसान, फ्लाईबिग ने शुरू की दिल्ली से शिलांग के लिए उड़ानें

बीसीसीआई ने पत्रकार मजूमदार को रिद्धिमान साहा को धमकाने के लिए दो साल के लिए बैन करने के आदेश जारी किया है। रिद्धिमान साहा ने 23 फरवरी को अज्ञात पत्रकार यानि बोरिया मजूमदार के खिलाफ ट्वीट्स की एक सीरीज पोस्ट की थी, जिसमें उन्होंने साहा को धमकी दी थी कि वो उनका करियर खत्म कर सकते हैं। हालांकि, इसके बचाव में बोरिया मजूमदार ने एक वीडियो जारी किया था, जिसमें साहा के ट्वीट्स को डॉक्टर्ड बताया था।

यह भी पढ़ें : अरुणाचल पत्रकारों ने की सुरक्षा के लिए सरकार से की विशेष कानून बनाने की मांग

बता दें, रिद्धिमान साहा ने जैसे ही खेल पत्रकार की बदतमीजी को लेकर ट्वीट किया था। वैसे ही वे उनके समर्थन में वीरेंद्र सहवाग, इरफान पठान, हरभजन सिंह समेत तमाम खिलाड़ियों ने ट्वीट किया था और बीसीसीआई से बैन की मांग की थी। इसी क्रम में उनको इसका दोषी पाया गया और बीसीसीआई ने दो साल के लिए बोरिया मजूमदार को बैन कर दिया।