भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) (Bcci) ने देश में बढ़ते कोविड 19 के बढ़ते मामलों के कारण आगामी रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy), अंडर-25 सीके नायडू ट्रॉफी और 2021-22 सीजन के लिए सीनियर महिला टी 20 लीग को स्थगित कर दिया है। रणजी ट्रॉफी और सीके नायडू ट्रॉफी (CK Nayudu Trophy) इस महीने शुरू होने वाली थी जबकि महिला लीग फरवरी के अंत में शुरू होने वाली थी। 

बीसीसीआई सचिव जय शाह (BCCI Secretary Jay Shah) ने मंगलवार को एक विज्ञप्ति जारी कर कहा, बीसीसीआई खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ, मैच अधिकारियों और अन्य प्रतिभागियों की सुरक्षा से समझौता नहीं करना चाहता है। इसलिए अगले नोटिस तक तीन टूर्नामेंटों को रोकने का फै़सला किया गया है। बीसीसीआई (BCCI) मौजूदा स्थिति का पर नजर बनाए हुए है और परिस्थितियों का आकलन करना जारी रखेगा। शाह ने कहा, बीसीसीआई स्वास्थ्य कर्मियों, राज्य संघों, खिलाड़ियों, सहायक कर्मचारियों, मैच अधिकारियों और सभी सेवा प्रदाताओं के प्रयासों की सराहना करते हुए, उन्हें धन्यवाद देता है, जिन्होंने मौजूदा 2021-22 के घरेलू सीजन के 11 टूर्नामेंटों में 700 से अधिक मैचों की मेजबानी बढ़िया तरीके से किया है। बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने इस बात की पुष्टि की कि रणजी ट्रॉफी को 15 दिनों के लिए पीछे धकेल दिया गया है।

गांगुली (Sourav Ganguly) ने खु़द एक सप्ताह पहले कोविड कोविड संक्रमित हो गए थे और कुछ दिनों के लिए कोलकाता के अस्पताल में भर्ती थे। पुरुषों की घरेलू प्रथम श्रेणी प्रतियोगिता 13 जनवरी से छह शहरों: मुंबई, बेंगलुरु, कोलकाता, अहमदाबाद, तिरुवनंतपुरम और चेन्नई में शुरू होने वाली थी। लेकिन 3 जनवरी को, यह बात सामने आया कि बंगाल के छह खिलाड़ी और उनके सहायक कोच कोविड संक्रमित पाए गए हैं। इसके बाद मुंबई के ऑलराउंडर शिवम दूबे और टीम के वीडियो विश्लेषक ने भी कोलकाता के लिए टीम के प्रस्थान करने से पहले भी कोविड पॉजिटिव पाए गए थे। पिछले हफ्ते, बोर्ड ने अंडर -16 विजय मर्चेंट ट्रॉफी को भी स्थगित कर दिया था। इसका कारण कोविड -19 मामलों की ताजा वृद्धि और ओमिक्रोन वैरिएंट के बढ़ते खतरे को बताया गया था। यह प्रतियोगिता जनवरी 2022 में शुरू होने वाली थी। भारत में हाल के हफ्तों में कोविड 19 के बढ़ते मामले के कारण कई राज्यों में रात और सप्ताहांत के कर्फ्यू की घोषणा की गई है। पश्चिम बंगाल में मंगलवार को 9,073 नए कोविड -19 मामले दर्ज किए गए हैं। वहीं महाराष्ट्र में 18,466 (मुंबई से 10,860 सहित), और दिल्ली में 5,481 मामले दर्ज किए गए हैं। रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के स्थगन ने प्रीमियर प्रथम श्रेणी टूर्नामेंट को मुश्किल स्थिति में डाल दिया है क्योंकि इसका फाइनल 16 से 20 मार्च के लिए निर्धारित किया गया था और आईपीएल आमतौर पर अप्रैल के पहले सप्ताह में शुरू होता है। रणजी ट्रॉफी को 15 दिनों के लिए स्थगित करने से प्रथम श्रेणी टूर्नामेंट में और कमी आ सकती है। हाल ही में बीसीसीआई ने सैकड़ों घरेलू क्रिकेटरों - पुरुष और महिला - को कई टूर्नामेंटों के लिए मैच फीस का भुगतान करना शुरू कर दिया था, जिन्हें 2020-21 सीजन में कोविड -19 के कारण स्थगित करना पड़ा था।